21 February 2019
प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी बढ़ी , सिंधिया, भूरिया और अजय सिंह के खेमों में जोर आजमाइश का दौर जारी।         नामी कंपनियों की सीमेंट में राख मिलाने वाले भोपाल लक्ष्मी ट्रेडर्स के मालिक अनिल जैन को पुलिस ने दबोचा।         नाकारा औऱ चापलूस अफसरों के भरोसे है भोपाल की ट्रैफिक व्यवस्था         दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं विनीत- कपिल मेवाड़ा दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- राज सोनी दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं विनीत- दिनेश सिंह दीपावली पर्व की हार्दिक हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं -विनीत - कल्लू सिंह मेवाड़ा दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं विनीत- दशरथ सिंह दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं विनीत - पवन कुमार दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं- रूप सिंह पठारिया दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं- मोहर सिंह मेवाड़ा दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं- राजेश विश्वकर्मा दीपावली पर्व की हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- श्रीमती रानी बाई दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- अनिल भार्गव दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- विपिन रावत दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएंं- हरीश सिंह दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- संतोष कुमार दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- जगदीश प्रसाद दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- बाबूलाल दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- विजय जैन दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- मनोज शर्मा दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- राशि शर्मा दीपावली पर्व पर हार्दिक हार्दिक शुभकामनाएं- आलोक मुदगल         स्टेट बैंक आफ इंडिया के सीजीएम के स्टाफ में भर्ऱाशाही         मध्यप्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों को राज्य सरकार मुफ्त में तीर्थ यात्रा कराएगी         आरईएस के तीन इंजीनियर सस्पेंड         रिटायरमेंट की उम्र 62 करने पर विचार        



प्रादेशिक
नये दृष्टिकोण के साथ परिवर्तन लायें: मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों से अपने पहले संबोधन में कहा कि यथास्थिति बनाये रखने के दृष्टिकोण को बदलने की जरूरत होगी। जो चल रहा है, चलने दें या ऐसे ही चलता है, जैसा दृष्टिकोण अब नहीं चलेगा। नये नजरिये और नये दृष्टिकोण के साथ व्यवस्था में परिवर्तन लाना होगा। उन्होंने मुख्य सचिव को कांग्रेस पार्टी का वचन पत्र सौंपते हुए कहा कि यह जनता की अपेक्षाओं का दस्तावेज है। इसे हर वर्ग ने तैयार किया है। उन्होंने कहा कि नये संसाधनों को तलाशने और "आउट ऑफ बाक्स" सोच अपनाना होगी। फिजूल खर्ची को रोकना होगा। जनता का पैसा अर्थपूर्ण तरीके से खर्च करना होगा क्योंकि हम सब जनता के पैसों के प्रति जवाबदेह हैं। मुख्यमंत्री ने वचन पत्र पर आधारित योजनायें बनाने की अपेक्षा की।
प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन में दतिया अव्वल
43 नवीन तहसीलों के गठन की सैद्धांतिक स्वीकृति
मध्यप्रदेश मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली
प्रमुख समाचार
किसानों के दो लाख तक के अल्पकालीन ऋण माफ-कमलनाथ
मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने आज शपथ ग्रहण के तत्काल बाद कृषि ऋण माफी, रोजगार सृजन की संभावनाओं और कन्या विवाह और निकाह योजना की राशि बढ़ाने संबंधी महत्वपूर्ण निर्णय लिये। कृषि ऋण माफी के संबंध में किसान-कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा आज ही प्रदेश में स्थित राष्ट्रीयकृत तथा सहकारी बैंकों में अल्पकालीन फसल ऋण के रूप में राज्य शासन द्वारा पात्रता अनुसार पात्र पाये गये किसानों के रू. दो लाख (2.00 लाख) की सीमा तक का 31 मार्च 2018 की स्थिति में बकाया फसल ऋण माफ करने का आदेश जारी कर दिया गया। राज्य शासन के इस निर्णय से लगभग 34 लाख किसान लाभान्वित होंगे। फसल ऋण माफी पर संभावित व्यय 35 से 38 हजार करोड़ अनुमानित है।
विभिन्न विभागों में 89 हजार से अधिक पदों पर भर्तियाँ होंगी
स्वाईन फ्लू इलाज के लिये चिन्हित 65 निजी अस्पताल
खजुराहो के रनेह वॉटर फाल को देश के पसंदीदा वॉटर फॉल के श्रेष्ठ हॉलीडे अवार्ड
राष्ट्रीय
भोपाल में राष्ट्रीय बालरंग
स्कूल शिक्षा विभाग और इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय, भोपाल के संयुक्त तत्वावधान में 19 दिसम्बर से 21 दिसम्बर तक राष्ट्रीय बालरंग भोपाल के श्यामला हिल्स स्थित इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में आयोजित किया जा रहा है।
ग्लोबल स्किल पार्क में अगस्त से शुरू होगी ट्रेनिंग
प्रधानमंत्री से पुरस्कृत हुए मध्यप्रदेश के कृषक
आदिवासी परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना में मिले घर
अंतरराष्ट्रीय
कनाडा में सिख रक्षा मंत्री पर संसद में नस्ली टिप्पणी
टोरंटो। कनाडा के पहले सिख रक्षा मंत्री पर संसद में नस्ली टिप्पणी की गई है। विपक्षी कंजर्वेटिव पार्टी के सांसद जैसन केनी ने हरजीत सज्जन पर प्रतिनिधि सभा में आइएस के खिलाफ कनाडा के अभियान के बारे में जानकारी देने के दौरान अभद्र टिप्पणी की। सत्ता पक्ष ने विपक्षी नेता से माफी की मांग की जिसे उन्होंने खारिज कर दिया। प्रश्नकाल के दौरान केनी ने सज्जन पर न केवल आपत्तिजनक टिप्पणी की, बल्कि उनके संबोधन को भी बाधित किया। विपक्षी नेता ने कहा कि सांसदों को सज्जन के जवाब को समझने के लिए अंग्रेजी से अंग्रेजी में अनुवाद की जरूरत है। सत्तारूढ़ पक्ष के नेताओं ने केनी की इस टिप्पणी को नस्ली करार दिया।
सीरिया में शांति की उम्मीदों को जोरदार झटका
सैनिकों को भेजने की गलती नहीं : हिलेरी
विस्थापितों की मदद का वादा
मनोरंजन
क्या रेखा इसलिए ही पसंद थीं अमिताभ बच्चन को
मुंबई। अमिताभ बच्चन का मानना है कि आज के दौर में अभिनेत्रियां लंबी हैं। किसी समय में यह बात एक्ट्रेसेस के मामले में बहुत ज्यादा दुर्लभ मानी जाती थी। अमिताभ ने दीपिका पादुकोण, करीना कपूर खान और अन्य एक्ट्रेसेस के साथ स्क्रीन शेयर की है। बिग बी मानते हैं कि वो सभी अभिनेत्रियां बहुत ही प्रतिभाशाली हैं। उस दौर की एक्ट्रेसेस से आज के दौर की नायिकाएं किस लिहाज से अलग हैं? के जवाब पर अमिताभ ने कहा,'ऐसे शुरू करता हूं कि आज की नायिकाएं लंबी हैं...वो बहुत अच्छी तैयारी के साथ हैं। मैं इसे पसंद करता हूं। कई बार मुझे उनसे कुछ सीखने का मौका मिलता है।' अमिताभ बच्चन नई दिल्ली में हुए न्यूज चैनल के इवेंट में मौजूद थे।
रितिक ने कंगना के साथ रिलेशनशिप को बकवास बताया
श्रद्धा कपूर हुई अल्ट्रा चूजी
बिग बॉस में जाने को तैयार शाहरुख
खेलकूद
विराट कोहली महान विव रिचर्ड्स की तरह नजर आते हैं रवि शास्त्री
नई दिल्ली। टीम इंडिया के निदेशक रवि शास्त्री ने कहा कि विराट कोहली उन्हें महान कैरेबियाई क्रिकेटर विव रिचर्ड्स की तरह नजर आते हैं और वे अपना बल्ला ऐसे चलाते हैं जैसे कोई तलवारबाज अपनी तलवार चलाता है। शास्त्री ने कहा- 'कोहली के कुछ शॉट्स खेलने का तरीका मुझे रिचर्ड्स की याद दिलाता है। रिचर्ड्स जिस तरह क्रिकेट के दोनों प्रारूपों में दबदबा रखते हैं, उसी तरह कोहली भी बल्लेबाजी करते हैं।' गौरतलब है कि रिचर्ड्स ने स्वयं कहा था कि भारतीय क्रिकेटर कोहली काफी कुछ उनकी शैली में बल्लेबाजी करते हैं। शास्त्री ने कहा कि रोहित शर्मा, शिखर धवन और कोहली की वजह से टीम इंडिया के पास दुनिया में 'बेस्ट टॉप थ्री' मौजूद हैं। इन तीनों की वजह से टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया का टी-20 सीरीज में सफाया किया था।
ऑस्ट्रेलिया के क्लीन स्वीप से चयनकर्ताओं का काम आसान
शीर्ष पर पहुंचने के बाद भारतीय टीम के हौसले बुलंद
कोहली को अभी से ऑस्ट्रेलिया की याद सताने लगी