16 February 2019



खेलकूद
सरिता ने दुनिया की दूसरे नम्बर की मुक्केबाज को हराया
15-05-2012

 नई दिल्ली। भारत की एल. सरिता देवी ने चीन के किनहुआंगदाओ में चल रहे एकमात्र ओलम्पिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट विश्व महिला मुक्केबाजी में शानदार प्रदर्शन करते हुए 60 किग्रा भारवर्ग में विश्व चैम्पियन और दुनिया की दूसरे नम्बर की मुक्केबाज तुर्की की गुलसुम तातार को हराकर प्रीक्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया। इस भार वर्ग में दूसरी बार किसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में उतरी एशियाई चैम्पियन सरिता ने तातार को बेहद करीबी मुकाबले में 14-13 से शिकस्त देकर ओलम्पिक टिकट पाने की अपनी उम्मीदें बरकरार रखी हैं। कुछ ही माह पहले लाइटवेट वर्ग अपनाने वाली मणिपुर की सरिता का प्रीक्वार्टरफाइनल में इंग्लैंड की नताशा जोनास से मुकाबला होगा। इंग्लिश मुक्केबाज ने स्विट्जरलैंड की सांद्रा ब्रूगर को एकतरफा मुकाबले में 23-11 से शिकस्त दी। सरिता प्रीक्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाली दूसरी भारतीय मुक्केबाज हैं। पांच बार की विश्व चैम्पियन एम सी मैरीकोम पहले ही 51 किग्रा वर्ग के प्रीक्वार्टरफाइनल में पहुंच चुकी हैं। चौथे राउंड में मारी बाजी सरिता और तातार के बीच जबर्दस्त मुकाबला हुआ। पहले तीन राउंड में दोनों मुक्केबाजों ने एक समान अंक हासिल किए। पहले राउंड में स्कोर 3-3, दूसरे राउंड में 4-4 और तीसरे राउंड में 3-3 रहा। सरिता ने चौथे और अंतिम राउंड के अंतिम दो मिनट में अपनी पूरी ताकत झोंकते हुए यूरोपीय चैम्पियन और विश्व चैम्पियन को मात दे दी। 51 किग्रा वर्ग से शुरूआत करने के बाद अब तक पांच बार अपना वजन वर्ग बदल चुकी सरिता ने अंतिम राउंड में चार अंक बटोरे। जांगड़ा अगले दौर में उनके अलावा पिंकी जांगड़ा 48 किग्रा और मीना रानी 64 किग्रा भी अगले दौर में पहुंच गई हैं। गैर ओलम्पिक वर्ग में भारत की आर एल जेनी 81 किग्रा भी अगले दौर में पहुच गई, लेकिन 57 किग्रा वर्ग में भारत की के मंदाकिनी चानू को दूसरे दौर में विश्व की नम्बर एक मुक्केबाज अमरीका की तियारा ब्राउन के हाथों में 16-21 से शिकस्त का सामना करना पड़ा।