19 February 2019



खेलकूद
आईपीएल के बैड ब्वॉय
16-05-2012

नई दिल्ली.इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-5 में कुछ खिलाड़ियों के दिन अच्छे नहीं चल रहे हैं। लीग में कुछ खिलाड़ी जहां फिक्सिंग की फांस में फंसे हुए हैं, वहीं कुछ खिलाड़ी मैदान पर अपने बर्ताव की सज़ा भुगत रहे हैं। इन खिलाड़ियों को आईपीएल का 'बैड ब्वॉय' कहा जा रहा है। अंबाती रायडू बैड ब्वॉय की सूची में ताज़ा नाम जुड़ा है मुंबई इंडियंस के अंबाती रायडू का। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मैच के बाद मैदान पर अंबाती गेंदबाज हर्षल पटेल से भिड़ गए। अंबाती पर आरोप है कि उन्होंने हर्षल को जमकर गालियां दीं और तेवर दिखाए। हालांकि, अंबाती पर अनुशासन की गाज गिर गई और उन पर मैच फीस का 100 फीसदी जुर्माना लगाया गया। लेकिन मैदान पर गर्मी दिखाने का यह आईपीएल-5 में अकेला मामला नहीं है। मुनफ पटेल मुंबई इंडियंस के गेंदबाज मुनफ पटेल ने मैच के दौरान अंपायर के फैसले के खिलाफ इतने नाराज हो गए कि वे अंपायर से ही उलझ गए। इसके लिए मुनफ पर मैच फीस का 25 फीसदी जुर्माना लगाया गया। इससे पहले किंग्स 11 पंजाब के खिलाफ मैच में मुनफ ने अभद्र इशारे किए थे, जिसके बाद उन पर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगाया गया था।रोहित शर्मा मुंबई इंडियंस के भरोसेमंद बल्लेबाज रोहित शर्मा का बल्ले से प्रदर्शन तो ठीक-ठाक ही रहा है, लेकिन भारतीय क्रिकेट के भविष्य के तौर पर देखे जा रहे इस बल्लेबाज का मैदान पर बर्ताव परेशान करने वाला है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मैच की आखिरी गेंद फेंकने के बाद रोहित आपा खो बैठे और गुस्से में स्टंप्स को पैरों से मारकर गिरा दिया। इसके लिए मैच रेफरी ने उन्हें फटकार लगाई। हरभजन सिंह सचिन तेंडुलकर के कप्तानी छोड़ने के बाद मुंबई इंडियंस की कप्तानी कर रहे हरभजन सिंह भी अपने खिलाड़ियों से ज्यादा पीछे नहीं हैं। आईपीएल के पहले संस्करण में श्रीशांत को चाटा मारने वाले हरभजन सिंह कप्तान बनने के बाद भी नहीं बदले हैं। डेकन चार्जर्स के खिलाफ अंपायर के फैसले से नाराज भज्जी ने खुलेआम उस फैसले कॉ विरोध किया था। सचिन की मौजूदगी में टूटीं मर्यादाएं!इस पूरे मामले में निराश करने वाली बात यह है कि अपनी साफ सुथरी और कभी विवाद में न पड़ने वाली छवि वाले क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर की मौजूदगी में उनकी टीम मुंबई इंडियंस के खिलाड़ियों ने अनुशासन तोड़ा है। अंबाती रायडू जैसे क्रिकेटर तो सचिन के सानिध्य में लंबे समय से क्रिकेट का 'ककहरा' सीख रहे हैं। जब तक मुंबई टीम की अगुवाई सचिन कर रहे थे, तब तक मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी आम तौर पर अनुशासित रहते थे, लेकिन उनके कप्तानी छोड़ने और हरभजन के कप्तान बनने के बाद हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं।