18 February 2019



प्रमुख समाचार
आईएएस शशि की नेतागिरी शुरू
24-05-2012

आईएएस अफसर शशि कर्णावत अब आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चे की अध्यक्ष बनकर सड़क पर उतरेंगी  और अजाक थाने में सीनियर आईएएस अफसर राधेश्याम जुलानिया के खिलाफ एफआईआऱ दर्ज कराएंगी। उनका आरोप है कि श्री जुलानिया ने जल संसाधन विभाग में पदोन्नति में आरक्षण नियमों का ध्यान नहीं रखा जबकि जुलानिया समर्थकों का कहना है कि श्री जुलानिया ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक ही पदोन्नति की है। इधर शशि की नेतागिरी शुरू होने से आईएएस अफसरों तथा कर्मचारी वर्ग में काफी आक्रोश है। गौरतलब है कि शशि ईओडब्ल्यू में एक दर्ज एक घोटाले में भी फंसी हुई हैं। उन्होंने पहले सरकार पर यह आरोप भी लगाया था कि आरक्षित वर्ग की होने के कारण उनके साथ अन्याय हो रहा है बाद में जब सिविल सेवा आचरण अधिनियम का शिकंजा उनके गले में फंसा तो वे अपने बयान से पलट गईं और माफी मांग ली। अब वे सड़कों पर उतरकर सरकार तथा अफसरशाही के लिए नई मुसीबत खड़ी कर रही हैं। इस मामले में कर्मचारी संगठन भी दो फाड़ हो गए हैं एक पक्ष तो यह कह रहा है कि एक बार नौकरी में आने के बाद प्रमोशन में रिजर्वेशन क्यों होना चाहिए क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने भी इस व्यवस्था को गलत बताया है। तो जो लोग इसकी हिमायत कर रहे हैं वे निःसंदेह सुप्रीम कोर्ट की भी अवमानना कर रहे हैं।