19 February 2019



खेलकूद
सैमुअल्स और सैमी ने संभाली पारी
26-05-2012

नाटिंघम। मर्लन सैमुअल्स की धैर्यपूर्ण शतकीय पारी और डेरेन सैमी के कप्तानी प्रयास से वेस्टइंडीज ने शुरुआती झटकों से उबरते हुए इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के पहले दिन छह विकेट पर 304 रन बनाए। पहला टेस्ट वेस्टइंडीज पांच विकेट से हार चुका है। टास जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे वेस्टइंडीज के छह विकेट 136 रन पर निकल गए थे जिसमें दुनिया नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज शिवनारायण चंद्रपाल [46] भी शामिल थे। सैमुअल्स [नाबाद 107] और सैमी [नाबाद 88] ने हालांकि अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ पारियां खेलकर यहीं से सातवें विकेट के लिए 168 रन की रिकार्ड साझेदारी निभाई। सैमुअल्स ने दिन के अंतिम क्षणों में जेम्स एंडरसन पर लगातार दो चौके जड़कर अपना तीसरा टेस्ट शतक पूरा करने के साथ ही पिछला उच्चतम स्कोर पीछे छोड़ा। सैमी भी अपने पहले टेस्ट शतक से केवल 12 रन दूर हैं। सैमुअल्स ने अभी तक 225 गेंद खेली तथा 15 चौके लगाए हैं। सैमी की 121 गेंद की पारी में 13 चौके और एक छक्का शामिल है। वेस्टइंडीज की शुरुआत खराब रही और उसने 63 रन तक ही चार विकेट गंवा दिए। एड्रियन बराथ [0], किर्क एडव‌र्ड्स [7] और डेरेन ब्रावो [3] दोहरे अंक में भी नहंी पहुंच पाए। एडव‌र्ड्स और ब्रावो को एंडरसन ने पवेलियन भेजा जबकि स्टुअर्ट ब्राड ने बराथ की पारी का अंत किया।सुबह के सत्र में कीरोन पावेल [33] लय में लग रहे थे लेकिन ब्राड ने उन्हें एंडरसन के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 49 गेंद का सामना करते हुए सात चौके जड़े। सैमुअल्स और चंद्रपाल ने इसके बाद पांचवें विकेट के लिए 62 रन जोड़कर विकेटों के पतझड़ को रोका। चंद्रपाल हालांकि जब काफी अच्छी लय में दिख रहे थे तब ग्रीम स्वान ने उन्हें पगबाधा आउट कर दिया। उन्होंने 86 गेंद का सामना करते हुए नौ चौके मारे। टिम ब्रेसनेन ने इसके बाद दिनेश रामदीन [1] को बोल्ड करके वेस्टइंडीज का स्कोर छह विकेट पर 136 रन किया। इंग्लैंड की ओर से ब्राड और एंडरसन ने दो-दो विकेट लिए हैं।