16 February 2019



खेलकूद
भारत ने दक्षिण कोरिया को हराया
26-05-2012

इपोह। पहले मुकाबले में न्यूजीलैंड से मिली करारी हार से सबक सिखते हुए भारत ने शुक्रवार को खेले गए सुलतान अजलन शाह हॉकी टूर्नामेंट के दूसरे मुकाबले में दक्षिण कोरिया को 2-1 से हरा दिया। भारत ने विजयी गोल मैच समाप्त होने से 55 सेकण्ड पहले दागा। भारत ने मैच के 12वें मिनट में ही 1-0 की बढ़त ले ली थी। स्टार स्ट्राइकर संदीप सिंह ने मैच के एकमात्र पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर यह बढ़त हासिल की। दक्षिण कोरिया के नाम ह्यून वू ने 66वें मिनट में गोल कर स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। वू के गोल के बाद ऎसा लग रहा था कि भारत और दक्षिण कोरिया का यह मुकाबला ड्रा हो जाएगा। लेकिन तुषार खांडेकर के क्रॉस पर एसके उथप्पा ने गोल कर भारत को रोमांचक जीत दिला दी।अर्जेन्टीना पर न्यूजीलैंड की शानदार जीत इससे पूर्व न्यूजीलैंड ने शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए अर्जेंटीना पर 5-2 से जीत दर्ज की, जबकि मेजबान मलेशिया ने जूनियर स्ट्राइकर फैजल सारी के दो गोल की मदद से ब्रिटेन से 3-3 से ड्रा खेला। इस जीत से न्यूजीलैंड के दो मैच में छह अंक हो गए हैं, जिसने कल अपने पहले मुकाबले में पांच बार की चैम्पियन भारत को 5-1 से शिकस्त दी थी। न्यूजीलैंड ने दूसरे हाफ में अर्जेंटीना के डिफेंस को बिखरते हुए दबदबा बनाया। इससे पहले दोनों टीमें 57वें मिनट तक 2-2 से बराबरी पर थी।पैन अमरीकन चैम्पियन अर्जेंटीना ने अपने दोनो मैच गंवा दिए हैं, कल पहले मैच में उसे पाकिस्तान से 2-4 से हार मिली थी। टूर्नामेंट की शीर्ष रैंकिंग वाली टीम ब्रिटेन अपने पहले मुकाबले में पूरे अंक जुटाने की कोशिश में थी, लेकिन सारी ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेरते हुए 67वें और 68वें मिनट में गोल कर दर्शकों को खुशी का मौका प्रदान किया।इस ड्रा से मलेशिया को दो मैचों में दो अंक मिल गए हैं, क्याेंकि कल पहले मैच में उसने दक्षिण कोरिया से 1-1 से ड्रा खेला था। ब्रिटेन की ओर से ग्लेन किर्कमान ने पांचवें मिनट में गोल कर शुरूआत की। मलेशिया ने 10वें मिनट में अजलन मिस्रोन की मदद से बराबरी हासिल की। एशले जैकसन ने 20वें और राब मूर ने 35वें मिनट में गोल कर ब्रिटेन को पहले हाफ में 3-1 से आगे कर दिया। जिसके बाद सारी ने अंत में दो गोल दागे और टीम को ड्रा करने में मदद की। हमारे लिए पहला हॉफ अच्छा रहा लेकिन दूसरे हॉफ में भारतीयों के रणनीति के अनुसार नहीं खेलने से कोरियाई खिलाड़ी पूरी तरह हावी रहे और हम मैच में संघर्ष करते रहे।माइकल नोब्स, भारतीय कोच