19 February 2019



खेलकूद
भूपति और सानिया क्वार्टरफाइनल में
04-06-2012

पेरिस। लंदन ओलंपिक में भारत की पदक उम्मीद माने जा रहे सानिया मिर्जा और महेश भूपति की सातवीं जोडी ने फ्रांस की वर्जिनी रेजानो और निकोलस डेविडलर को रविवार को लगातार सेटों में 7-6, 6-3 से हराकर फ्रेंच ओपन के क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली। सानिया और भूपति को एक घंटे और 20 मिनट तक चले दूसरे दौर के मुकाबले में पहले सेट में जीत दर्ज करने के लिए काफी मेहनत करनी पडी।भारतीय जोडी ने इस सेट में चार डबल फाल्ट और चार बेजां भूलें की लेकिन टाईब्रेक में 7-4 से जीतने में सफल रही लेकिन दूसरे सेट में सानिया और भूपति के खेल में सुधार आया और उन्होंने दोनों ब्रेक अंक भुनाए। इस दौरान उन्होंने न तो कोई डबल फाल्ट किया और न ही कोई बेजा भूल। अंतिम चार में जगह बनाने के लिए भारतीय जोड़ी को चेक गणराज्य की क्वेता पेश्के और अमरीका के माइक ब्रायन की दूसरी सीड जोडी से पार पाना होगा। भारत के लिएंडर पेस और रूस की एलेना वेस्त्रीना पहले ही `ार्टरफाइनल में जगह बना चुके हैं। उन्होंने फ्रांस की माथिडेल जोहानसन और मार्क गिक्वल को 6-2, 6-0 से हराकर अंतिम आठ का टिकट कटाया जहां उनका सामना बेलारूस के मैक्स मिर्नी और अमरीका के लीजर ह्यूबर की शीर्ष वरीय जोड़ी से होगा।महिला एकल के शीर्ष वरीय और आस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन बेलारूस की विक्टोरिया अजारेंका को प्रीक्वार्टरफाइनल में 15वीं सीड स्लोवाकिया की डोमिनिका सिबुलकोवा ने 6-0, 7-5 से हराकर टूर्नामेंट का सबसे बडा उलटफेर कर दिया। गत चैंपियन और 26वीं सीड रूस की स्वेतलाना को भी इटली की सारा ईरानी के हाथों 0-6, 5-7 से हार का सामना करना पडा। लेकिन यू एस ओपन चैंपियन आस्ट्रेलिया की सामंता स्तोसुर और दसवीं सीड जर्मनी की एंगेलिक कर्बर अपने-अपने मुकाबले जीतकर क्वार्टरफाइनल में पहुंच गई। क्वार्टरफाइनल में स्तोसुर का सामना सिबुलकोवा से होगा जबकि ईरानी और कर्बर के बीच अंतिम चार में जाने के लिए मुकाबला होगा।