19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
डेविड कैमरन की हैकिंग मामले में होगी सुनवाई
09-06-2012

लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन गुरुवार को लेवेसन इंक्वायरी कमेटी के सामने पेश होंगे। यह कमेटी फोन हैकिंग मामले की जांच कर रही है। अगले सप्ताह मामले की सुनवाई के दौरान देश के उप प्रधानमंत्री निक क्लेग की भी पेशी होगी। इस दौरान कैमरन को कई तीखे सवालों से दो-चार होना पड़ सकता है। 2010 के आम चुनावों में रूपर्ट मडरेक ने कंजरवेटिव पार्टी का समर्थन किया था। इससे जुड़े कई सवालों के जवाब कैमरन को देने पड़ कसते हैं। कैमरन और क्लेग इस मामले में लेवेसन इंक्वायरी के सामने पेश होने वाले कंजरवेटिव-लिबरल डेमोकेट्रिक सरकार के सबसे वरिष्ठ सदस्य हैं। इस मामले की जांच के दौरान जो लोग पत्रकारों और ब्रिटिश नेताओं के संबंधों के बारे में सबूत उपलब्ध करा रहे हैं उनमें चांसलर जॉर्ज ऑसबर्न और पूर्व प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन का नाम प्रमुख है। इंक्वायरी ने पिछले सप्ताह कैमरन के कैबिनेट सहयोगियों संस्कृति मंत्री जेरेमी हंट और उद्योग मंत्री विन्स केबल से पूछताछ की थी। इंक्वायरी ने शुक्रवार को घोषणा की कि गुरुवार की सुनवाई में कैमरन अकेले गवाह होंगे। लेबर पार्टी के नेता एड मिलिबैंड, पूर्व प्रधानमंत्री सर जॉन मेजर और लेबर पार्टी के उप नेता हैरियट हरमन मंगलवार को तथा स्कॉटलैंड के प्रधानमंत्री एलेक्स सालमंड बुधवार को इंक्वायरी के सामने पेश होंगे।