18 February 2019



खेलकूद
यूरो कप: पॉल बाबा का स्थान भारतीय हथिनी लेगी
09-06-2012

नई दिल्ली। जर्मनी वाले ऑक्टोपस पॉल याद हैं आपको? वही जिसे पॉल बाबा का खिताब दे दिया गया था और जिसने फुटबॉल विश्व कप-2010 व पिछली यूरोपीय चैंपियनशिप में अपनी सटीक भविष्यवाणियों से दुनिया भर में लोकप्रियता हासिल कर ली थी। हालांकि अब पॉल बाबा हमारे बीच नहीं है, लेकिन यूरोपीय चैंपियनशिप-2012 में उसकी कमी नहीं खलेगी, क्योंकि पोलैंड के क्राकोव शहर के चिड़ियाघर की भारतीय हथिनी-सिट्टा ने उनका स्थान ले लिया है। चिड़ियाघर की देखभाल करने वाले जे.पिरॉग के मुताबिक, सिट्टा ने पिछले महीने चैंपियन लीग फाइनल के बारे में जो भविष्यवाणी की थी वह सटीक साबित हुई। अब पोलैंड के गु्रप के मैचों के नतीजों के बारे में उसकी क्षमता को परखा जा रहा है। पिरॉग ने सिट्टा के भविष्यवाणी के तरीके के बारे में बताया कि उसके सामने संबंधित देशों के झंडेनुमा पोस्टर के साथ एक-एक फल रख दिया जाता है। वह जिस देश के सामने रखा फल उठाती है उसकी जीत तय मान ली जाती है। उनके अनुसार, सिट्टा ने कूबा नामक अफ्रीकी तोते और ब्लैक मैरी नाम के गधे के साथ प्रतियोगिता में खुद को श्रेष्ठ साबित कर भविष्यवाणी करने का मौका प्राप्त किया है। परीक्षण के तहत हमने चेल्सी और बायर्न म्यूनिख के बीच चैंपियन लीग फाइनल को चुना। तोते और गधे ने म्यूनिख के विजयी होने की भविष्यवाणी की, लेकिन सिट्टा ने चेल्सी को विजेता बताया और अंतत: ऐसा ही हुआ।