19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
कृष्णा करेंगे यूएसआईबीसी को संबोधित
12-06-2012

वाशिंगटन। भारत और अमेरिका के बीच बुधवार को होने वाली विदेश मंत्री स्तर की वार्ता के लिए भारतीय प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को वाशिंगटन पहुंच गया। इस दल की अगुआई विदेश मंत्री एसएम कृष्णा कर रहे हैं। कृष्णा हिलेरी के साथ 13 जून को बैठक की सह अध्यक्षता करेंगे। उनकी अगुवाई में यहां एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल आया है। माना जा रहा है कि इस वार्ता के दौरान दोनों पक्ष विभिन्न द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा करेंगे। विदेश मंत्री मंगलवार को यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल [यूएसआईबीसी] के सालाना आयोजन को संबोधित करेंगे। यूएसआईबीसी वाशिंगटन स्थित सबसे बड़ा द्विक्षीय व्यापार संगठन है और अमेरिका-भारत वाणिच्यिक एवं व्यापार संबंधों की वकालत करने वाला एक मुख्य कारोबारी प्रतिष्ठान भी है। यूएसआईबीसी के अध्यक्ष रोन सोमेर्स ने एक बयान में कहा है, आयोजन में कृष्णा की भागीदारी बीते 20 बरस से चले आ रहे भारत अमेरिका वाणिच्यिक सहयोग को और आगे बढ़ाएगी। इसकी शुरुआत भारत ने 1991 में की थी। रणनीतिक वार्ता से पहले, कल कई उप वार्ताएं हुई जिनमें वैश्विकमुद्दों का मंच, घरेलू सुरक्षा पर विमर्श, रणनीतिक खुफिया वार्ता, प्रति आतंकवाद संयुक्त कार्यकारी समूह, साइबर विचारविमर्श, सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी कार्यकारी समूह, महिला अधिकारिता वार्ता, स्वास्थ्य सहयोग पर वार्ता तथा अन्य आयोजन शामिल हैं। अमेरिका में भारतीय राजदूत निरूपमा राव ने कहा कि रणनीतिक वार्ता में पांच थीम पर चर्चा की जाएगी। पहली थीम में सुरक्षा, घरेलू सुरक्षा, प्रति आतंकवाद और खुफिया वार्ता होंगी। इसमें सुरक्षा, तकनीक संबंधित कई मुद्दे उठाए जाएंगे। भारत-अमेरिका विदेश मंत्री वार्ता में बैठक के दौरान दोनों पक्षों के बीच अफगानिस्तान, पाकिस्तान, एशिया प्रशांत क्षेत्र और तीसरी दुनिया के देशों में अपने संयुक्त सहयोग पर भी विचारविमर्श किए जाने की उम्मीद है। कृष्णा के वाशिंगटन पहुंचने से पहले ही अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी ने भारत को ईरान से तेल पर निर्भरता कम करने के चलते ईरानी प्रतिबंध कानून से छूट देने की घोषणा की थी। हालांकि एसएम कृष्णा ने इस बाबत कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। कृष्णा के साथ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री विलासराव देशमुख, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री गुलाम नबी आजाद, योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया, प्रधानमंत्री के लोकसूचना अवसंरचना एवं नवप्रवर्तन सलाहकार सैम पित्रोदा, महिला एवं बाल विकास राच्य मंत्री कृष्णा तीरथ, योजना राच्य और विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी एवं पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री अश्विनी कुमार भी अमेरिका गए हैं। प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों में विदेश सचिव रंजन मथाई, गृह सचिव आर के सिंह, इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक नेहचल संधू, उच्च शिक्षा सचिव अशोक ठाकुर और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हैं।