19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
आतंकी राणा को सुनाई जाएगी सजा
12-06-2012

शिकागो। अमेरिका की एक अदालत ने पाकिस्तानी मूल के कनाडाई आतंकी तहव्वुर हुसैन राणा की मुकदमे की नए सिरे से सुनवाई की अपील को ठुकरा दिया है। उसे आगामी चार दिसंबर को सजा सुनाई जाएगी। इलिनायस की जिला अदालत के जज लीनेनवेबर ने सात जून और आठ जून के दो अलग-अलग आदेशों में राणा को सजा सुनाने की तारीख चार दिसंबर मुकर्रर की है। हालांकि उसके सहयोगी और सह आरोपी डेविड कोलमैन हेडली उर्फ दाऊद गिलानी की सजा को लेकर कोई तारीख तय नहीं की गई है। पिछले साल अदालत ने राणा को मुंबई के 26/11 हमले में शामिल होने के आरोपों से बरी कर दिया था। मगर लश्कर-ए-तैयबा को साज-ओ-सामान उपलब्ध कराने और पैगंबर मुहम्मद का कार्टून प्रकाशित करने वाले डेनमार्क के एक अखबार पर हमले की साजिश रचने का दोषी दोषी ठहराया था। हेडली मुंबई हमलों में अपनी भूमिका स्वीकार चुका है। 26 नवंबर, 2008 को मुंबई में हुए आतंकी हमले में 166 लोग मारे गए थे। नई सुनवाई की मांग करने वाली अपनी याचिका में राणा ने आरोप लगाया कि मुंबई आरोपों से डेनमार्क के आरोपों को अलग करने की उसके सुनवाई के पूर्व आग्रह को अदालत ने गलती से अस्वीकार कर दिया। हालांकि अपने फैसले में न्यायाधीश उसकी दलीलों से सहमत नहीं हुए और उसे सजा देने का रास्ता साफ हो गया है। अदालती आदेश में कहा गया है कि ज्यूरी ने पाया है कि राणा ने डेनिश अखबार पर हमले की साजिश में हेडली की मदद करके हमले के साजिशकर्ता लश्कर का समर्थन किया। इस बात के पुख्ता सुबूत हैं कि राणा ने लश्कर को साजो सामान मुहैया कराया।