19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
सीरिया में चल रहा है गृहयुद्घ:यूएन
13-06-2012

दमिश्क। सीरिया में संयुक्त राष्ट्र के पर्यवेक्षकों का मानना है कि देश में गृहयुद्घ चल रहा है। यूएन पर्यवेक्षक मिशन के मुखिया हर्व लाडसुस ने कहा कि देश में कई ऐसे हिस्से हैं जहां सरकार का नियंत्रण नहीं है और वह उन्हें फिर से कब्जाने के लिए बड़ी कार्रवाई कर रही है। यूएन पर्यवेक्षक एक शहर में प्रवेश से रोके जाने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे। पर्यवेक्षकों को अंदेशा है कि इस शहर में भी सेना ने बड़ा नरसंहार किया है लेकिन जब मिशन के सदस्यों ने वहां जाने की कोशिश की तो एक बड़े सशस्त्र समूह ने उसे रोक लिया। उन्होंने कहा कि हमें जानकारी मिली है कि सैन्य कार्रवाई के लिए टैंकों और सैन्यबलों के अलावा हेलिकॉप्टरों की भी मदद ली जा रही है। जाहिर है दूसरी ओर से भी जवाब मिल रहा है। यह युद्घ जैसी स्थिति है। इस बीच अमेरिका विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि अगर देश में इसी तरह हिंसा जारी रही तो अमेरिका को यूएन पर्यवेक्षक मिशन के कार्यकाल को बढ़ाने में कोई चुक नजर नहीं आता। बच्चों को प्रताड़ित कर रही है सीरियाई सेना संयुक्त राष्ट्र। विद्रोहियों के खिलाफ सीरियाई सैनिक बच्चों का इस्तेमाल मानव कवच के तौर पर कर रहे हैं। संयुक् त राष्ट्र संघ की एक ताजा रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सैनिक बच्चों को बुरी तरह से प्रताड़ित कर रहे हैं। वैश्विक संस्था ने हिंसाग्रस्त देशों से जुड़ी वार्षिक सूची में सीरिया को भी शामिल किया है। रिपोर्ट के अनुसार, सीरिया में सेना के जवान बच्चों को हथियार उठाने के लिए भी विवश कर रहे हैं। वहीं, मानवाधिकार संगठनों का भी कहना है कि 15 महीनों से जारी हिंसा में सीरिया में 1200 बच्चे मारे गए हैं। यहां बीते साल राष्ट्रपति बशर अल असद के खिलाफ प्रदर्शन शुरू हुआ था। उसके बाद से ही यहां हिंसा जारी है।