19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
म्यांमार में खूनी हिंसा में 28 की मौत व 53 घायल
15-06-2012

सितवे। म्यांमार के राखिने प्रांत में दो धार्मिक समुदायों के बीच पिछले कुछ दिनों से जारी खूनी हिंसा में कम से कम 28 लोग मारे गए हैं और 53 अन्य घायल हुए हैं। सरकारी अधिकारियों ने गुरूवार को बताया कि राखिने प्रांत में दो समुदायों के बीच भड़की हिंसा में लूटपाट और आगजनी की घटनाओं के बाद आपातकाल लागू है। अधिकारियों ने बताया कि इस संघर्ष में अब तक 28 लोग मारे जा चुके हैं और 53 लोग घायल हो गए हैं लेकिन यह नहीं बताया गया कि मारे गए लोगों में मुस्लिम समुदाय के लोग हैं या बौद्ध समुदाय के। दोनों समुदायों के बीच जारी संघर्ष में मारे गए लोगों और घायलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। देश में जारी इस हिंसा के कारण बरसों के सैन्य शासन के बाद सुधारों को लागू करने में जुटी सरकार को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सितवे में हालात और बिगड़ने के कारण सुरक्षा बलों ने एक रात के लिए और कर्फ्यू लगा दिया था। ज्ञातव्य है कि बौद्ध समुदाय के लोगों ने आरोप लगाया था कि मुस्लिम समुदाय के लोगों ने उनके समुदाय की एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार करके उसकी हत्या कर दी। इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में हिंसा भड़क गई।