19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
भारत चीन समुद्री सुरक्षा मामले में वार्ता करेंगे
21-06-2012

रियो डि जनेरियो। समुद्री सुरक्षा और नौवहन में सहयोग बढ़ाने के उद्देश्य से भारत और चीन ने बातचीत को बढ़ाने का निर्णय लिया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सतत विकास पर आयोजित संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और चीन के प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ के बीच हुई 40 मिनट की द्विपक्षीय बातचीत के दौरान समुद्री सुरक्षा और नौवहन में सहयोग बढ़ाने के वास्ते दोनों देशों में टीमें गठित करके विचारों का आदान प्रदान करने का निर्णय लिया गया।प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत इसके लिए मत्रियों का एक समूह गठित करेगा जबकि चीन एक आधिकारिक टीम का गठन करेगा जो समय समय पर व्यापार और सुरक्षा से संबंधित समुद्री मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान करेंगे।इससे पूर्व भारत के विदेश सचिव रंजन मथई ने मीडिया को बताया कि दोनों नेताओं के बीच सार्थक और महत्वपूर्ण बैठक हुई जो लगभग 40 मिनट तक चली। दोनों नेताओं के बीच यह 13वीं बैठक थी। मथई ने बताया कि द्विपक्षीय वार्ता के अलावा दोनों नेताओं ने बहुस्तरीय मंचों पर सहयोग बढ़ाने का भी निर्णय लिया। उन्होंने बताया कि दोनों नेताओं ने रक्षा के क्षेत्र में कूटनीतिक वार्ता को भी बढाने का फैसला किया।