18 February 2019



प्रादेशिक
प्रभात झा की सलाहकारों ने कराई बेइज्जती
21-06-2012

बीजेपी का प्रदेश अध्यक्ष किसी कांग्रेसी नेता से मिलने उसके घर पहुंचे और वह नेता उसे मिलने से इंकार कर दे इससे बड़ी बेईज्जती क्या हो सकती है। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा के घटिया किस्म के सलाहकार, गत गुरुवार को कांग्रेस नेता गुफरानेआजम के यहां मिलवाने ले गए। गुफराने आजम की ठसक देखिए कि उन्होंने प्रभात झा के लिए अपने घर के दरवाजे तक नहीं खोले। हालांकि अपनी बेईज्जती से खिसियाए बीजेपी नेता यह कह रहे थे कि गुफरानेआजम ने उन्हें खाने पर बुलाया था लेकिन गुफरान ने साफ कहा कि उन्होंने तो प्रभात झा को खाने पर नहीं बुलाया। सवाल यह उठता है कि राष्ट्रीय स्तर की पार्टी जिसका मध्यप्रदेश में शासन है क्या वह इतनी दीन-हीन अवस्था में है जो कांग्रेस के चुके हुए नेताओं के यहां जाकर उन्हें अपनी पार्टी में शामिल करने की जरूरत पड़ रही है। वाकई यह कुशाभाऊ ठाकरे औऱ प्यारेलाल खंडेलवाल, सुंदरलाल पटवा जैसे नेताओं की पार्टी के लिए किसी शाक से कम नहीं है कि बिना बुलाए ही बीजेपी के नेता कांग्रेस के नेताओं के यहां पहुंचकर अपनी औऱ पार्टी की किरकिरी करवा रहे हैं। जाहिर है प्रभात झा को अपने छुटभैये किस्म के सलाहकारों से मुक्ति पाना चाहिए वरना कभी वे धुव्र नारायण सरीखे तो कभी दिलीप सूर्यवंशी सरीखों के साथ जुड़कर बदनाम होंगे तो कभी किसी के गेट पर खड़े होकर बेइज्जत होकर वापस लौटेंगे।