19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
असांजे को मृत्युदंड सुनाये जाने का डर
30-06-2012

लंदन। ब्रिटिश पुलिस ने विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे के नाम प्रत्यर्पण नोटिस जारी किया है। यौन हमले के आरोपों में उन्हें स्वीडन में तलब किया गया है।सूत्रों के अनुसार 40 वर्षीय आस्ट्रेलियाई नागरिक असांजे ने पिछले सप्ताह लंदन में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ली थी। वे इस दक्षिण एशियाई देश में राजनीतिक शरण चाहते हैं। असांजे से शुक्रवार को पुलिस थाने में उपस्थित होने को कहा गया है।ब्रिटेन के सुप्रीम कोर्ट ने दो सप्ताह पहले कहा था कि विकिलीक्स संस्थापक असांज को स्वीडन प्रत्यर्पित कर दिया जाना चाहिए क्योंकि वहां यौन हमले के मामले में उनकी तलाश है। असांजे इन आरोपों से बार-बार इनकार करते रहे हैं और उनका कहना है कि यह मामला राजनीतिक रूप से प्रेरित है।असांजे व उनके समर्थकों को डर है कि उन्हें स्वीडन से अमरीका प्रत्यर्पित किया जा सकता है और वहां उन पर जासूसी के आरोप लगाकर उन्हें मृत्युदंड सुनाया जा सकता है। वे इन दिनों ब्रिटेन में नजरबंदी में हैं। प्रत्यर्पण नोटिस जारी होने के बाद ब्रिटिश अधिकारी असांज को 10 दिन के अंदर स्वीडन भेज सकते हैं।