16 February 2019



खेलकूद
यूरो कप का खिताबी मुकाबला रविवार को
30-06-2012

वारसा। यूरो कप फुटबाल चैम्पियनशिप के खिताबी मुकाबले में रविवार को भिड़ने जा रहे विश्व और गत यूरो चैम्पियन स्पेन तथा इटली के बीच अब तक लगभग बराबरी का मुकाबला रहा है। दोनों ही टीमें फाइनल में इतिहास बना सकती हैं। स्पेन जहां पुर्तगाल को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से हराकर लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचा है, वहीं इटली ने सेमीफाइनल में जर्मनी को 2-1 से करारी शिकस्त देकर खिताबी मुकाबले का टिकट कटाया है। विश्व रैंकिंग में स्पेन नम्बर एक और इटली 12वें स्थान पर है। यदि स्पेन रविवार को खिताब जीतता है तो वह जर्मनी के तीन यूरो खिताब जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेगा। स्पेन ने इससे पहले 1964 और 2008 में यूरो खिताब जीते थे। स्पेन 1984 के यूरो फाइनल में मेजबान फ्रांस से हारा था। इटली की पिछली एकमात्र यूरो सफलता 1968 में रही थी। तब वह मेजबान था और उसने फाइनल में यूगोस्लाविया को हराया था। इटली वर्ष 2000 में फ्रांस से अतिरिक्त समय में गोल्डन गोल के जरिए 1-2 से हारकर उपविजेता रहा था। बालोटेली बन सकते हैं शीर्ष स्कोररमारियो बालोटेली यदि फाइनल में गोल दाग देते हैं तो वह शीर्ष स्कोरर बन सकते हैं। स्पेन के फर्नान्डो टोरेस, केस फेब्रेगास और जाबी अलोंसो के दो-दो गोल हैं। बालोटेली तीन गोलों के साथ संयुक्त रूप से बढ़त पर हैं।आमने-सामने26 बार मुकाबला हुआ अब तक08 बार इटली ने जीत दर्ज की07 बार स्पेन ने मारी बाजी11 मुकाबले ड्रा रहे हैं दोनों मेंरोचक तथ्यस्पेन बडे टूर्नामेंटों में इससे पहले इटली से सात बार भिड़ा है, लेकिन कभी भी सीधी जीत हासिल नहीं कर पाया है। यूरो 2008 के क्वार्टर में स्पेन ने इटली को पेनल्टी शूटआउट में हराया था, दोनों टीमों का इस टूर्नामेंट के ग्रुप चरण में मुकाबला 1-1 की बराबरी पर छूटा था।स्पेन 2010 विश्व कप में अपना पहला मुकाबला स्विट्जरलैंड से गंवाने के बाद से अपराजित चल रहा है। उसने पिछले 19 मैचों में 17 मैच जीते हैं। दो ड्रा मैच इसी टूर्नामेंट में खेले। स्पेन का पुर्तगाल के साथ सेमी में मैच निर्धारित समय में गोलरहित बराबर रहा था। स्पेन ने यह मैच पेनल्टी शूटआउट में जीता था, लेकिन आंकड़ों में यह मैच ड्रा के रूप में ही गिना जाएगा। यूरो में इस बार स्पेन के खिलाफ गोल करने वाले एकमात्र खिलाड़ी इटली के एंटोनियो डी नताले हैं। यूरो में इटली ने अपने पिछले 19 मैचों में सिर्फ दो गंवाए हैं। इटली को 2000 के फाइनल में फ्रांस के हाथों 1-2 से और 2008 के यूरो में हॉलैंड के हाथों ग्रुप चरण में 0-3 से हार का सामना करना पड़ा था।