15 February 2019



राष्ट्रीय
नरेंद्र कुमार की मौत के मामले में आया नया मोड़
03-07-2012

इंदौर। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में सात मार्च को हुई आइपीएस अधिकारी नरेंद्र कुमार की ट्रैक्टर से कुचलकर हुई मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है। स्व. नरेंद्र के पिता केशवदेव, दादाजी गंगाचरण, चचेरे भाई राजकुमार लक्ष्मण¨सह और माता नवाब कौर ने विशेष न्यायालय में शपथ पत्र के साथ लिखित बयान पेश किए, जिसमें कहा गया है कि यह मामला खनन माफिया से संबंधित है और खनन माफिया ने ही नरेंद्र की हत्या की है। सोमवार को इंदौर में सीबीआइ की विशेष अदालत में नरेंद्र के पिता ने दिए बयान में कहा कि मुरैना क्षेत्र के एक नेता व पूर्व मंत्री रुस्तम ¨सह भी खनन माफिया के वाहन छोड़ने के लिए उनके बेटे पर दबाव डालते थे। सीबीआइ ने उनके बयान दर्ज नहीं किए।बयान देने के लिए उन्होंने सीबीआइ अधिकारियों से चर्चा भी की थी, लेकिन उन्होंने कोई सुनवाई नहीं की। कोर्ट ने इन बयानों पर जवाब देने के लिए सीबीआइ को 13 जुलाई तक का समय दिया है। सीबीआइ ने जांच के बाद कोर्ट में चालान पेश कर दिया है जिसमें नरेंद्र कुमार की मौत को हत्या नहीं, बल्कि गैर इरादतन हत्या बताया गया है।