19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
अमेरिका के खिलाफ ईरान का सबसे तीखा वार
05-07-2012

दुबई। ईरान ने हमले की सूरत में पश्चिम एशिया में मौजूद अमेरिका के सभी सैन्य अड्डों को निशाना बनाने की धमकी दी है। ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड की वैमानिकी इकाई के कमांडर अली हाजी जादेह ने बुधवार को यह चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि अमेरिका के सभी सैन्य अड्डे ईरान की मिसाइलों की जद में हैं। साथ ही हमला होने के चंद मिनटों के अंदर ही इजरायल पर भी मिसाइलें दाग दी जाएंगी।उन्होंने कहा कि अमेरिका के 35 सैन्य अड्डों को ईरान आसानी से निशाना बना सकता है। हाजी जादेह का यह बयान रिवोल्यूशनरी गार्ड के युद्धाभ्यास के बीच आया है। ग्रेट प्रोफेट-7 के नाम से कावीर रेगिस्तान में चल रहे युद्धाभ्यास का बुधवार को तीसरा दिन था। इससे पहले मंगलवार को अभ्यास के दौरान शाहाब-3, 2 और 1 बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया। उल्लेखनीय है कि ईरान और पश्चिमी देशों के बीच बेहद तल्ख चल रहे संबंधों के बीच जेहाद की चेतावनी को अमेरिका के खिलाफ अब तक का सबसे तीखा वार माना जा रहा है। दूसरी ओर इजरायल और अमेरिका भी लगातार तीखे तेवर दिखा रहे हैं। इजरायल का कहना है कि ईरान के परमाणु कार्यक्रम को रोकने के लिए जारी कूटनीतिक प्रयासों के विफल होने पर वह तेहरान के खिलाफ सैन्य विकल्प का इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेगा। अमेरिका भी इस तरह के बयान देते रहा है।