18 February 2019



खेलकूद
अभिजीत चैंपियन तो वेंकटेश बने भारत के 28वें ग्रैंडमास्टर
05-07-2012

फिलाडेल्फिया [अमेरिका]। राष्ट्रीय चैंपियन अभिजीत गुप्ता ने अमेरिका के इंटरनेशनल मास्टर (आइएम) डीन इपोलिटो को हराकर फिलाडेल्फिया अंतरराष्ट्रीय शतरंज टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया, जबकि एमआर वेंकटेश भारत के 28वें ग्रैंडमास्टर बनने में सफल रहे। एशियाई चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्य अभिजीत गुप्ता ने टूर्नामेंट के दौरान छह बाजी जीतीं और तीन बाजी ड्रॉ रहीं, जिससे उन्होंने संभावित नौ में से 7.5 का स्कोर बनाया। भारतीय दल के लिए एक और अच्छी खबर है। वेंकटेश ने प्रतियोगिता के दौरान अपना तीसरा और अंतिम ग्रैंडमास्टर नॉर्म हासिल किया। वेंकटेश ने अंतिम दौर में हमवतन भारतीय एसपी सेतुरमन से ड्रॉ खेला, जिससे वह कुल सात अंक जुटाकर दूसरे स्थान पर रहे। सेतुरमन भी चौथे स्थान पर रहे। इस तरह टूर्नामेंट में भारत का दबदबा बना रहा। महिला वर्ग में महिला ग्रैंडमास्टर पदमिनी राउत ने कुल साढ़े पाच अंक जुटाकर इंटरनेशनल मास्टर नॉर्म हासिल किया। इसके बाद भारतीय टीम बुधवार से शुरू हो रहे विश्व कप ओपन में हिस्सा लेगी। भारतीय खिलाड़ियों की अंतिम स्थिति : पुरुष: पहला स्थान: अभिजीत गुप्ता (7.5 अंक), दूसरा स्थान: एंमआर वेंकंटेश (7), चौथा स्थान: एसपी सेतुरमन (6.5), 10वां स्थान: दीपन चक्रवर्ती (5.5) महिला: इशा करवाडे (5.5), पदमिनी राउत (5.5), श्याम निखिल (5), तानिया सचदेव (5), निशा मोहोता (5), प्रत्यूषा बोडा (4 अंक)।