19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
जूलियन असांजे पर लगाए गए आरोप हास्यास्पद
06-07-2012

क्यूटो। एक्वाडोर के विदेश मंत्री ने कहा है कि स्वीडन में विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे पर लगाए गए बलात्कार और यौन शोषण के आरोप हास्यास्पद हैं। साथ ही कहा कि उन्हें अपने देश में राजनीतिक शरण देने पर फिलहाल कोई फैसला नहीं हुआ है।विदेश मंत्री रिकार्डो पैटिनो ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा,'स्वीडन में दो महिलाओं द्वारा असांजे पर लगाए गए आरोपों को मैं निजी तौर पर हास्यास्पद मानता हूं। असांजे पहले ही कह चुके हैं कि यह संबंध आपसी सहमति से बने थे।' असांजे फिलहाल लंदन स्थित एक्वाडोर के दूतावास में रह रहे हैं। उन्होंने एक्वाडोर से राजनीतिक शरण देने के लिए आवेदन किया है। ब्रिटेन के सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने उन्हें स्वीडन प्रत्यर्पित करने का आदेश सुनाया था। इराक और अफगानिस्तान युद्ध से जुड़े हजारों गोपनीय दस्तावेजों को लीक करने के बाद से ही असांजे अमेरिका के निशाने पर हैं। उन्हें डर है कि स्वीडन प्रत्यर्पित किए जाने के बाद उन्हें अमेरिका को सौंप दिया जाएगा, जहां उनके खिलाफ जासूसी के आरोप में मुकदमा चल सकता है। असांजे को वर्ष 2010 में शरण देने की पेशकश कर अमेरिका की नाराजगी झेलने वाले एक्वाडोर के राष्ट्रपति राफेल कोरिया ने कहा है कि उनका देश असांजे के आवेदन पत्र पर सोच समझ कर फैसला लेगा।