16 February 2019



खेलकूद
एथलीट पिंकी की सुनवाई आज
06-07-2012

कोलकाता। यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार हुई एथलीट पिंकी प्रमाणिक को लिंग परीक्षण के नाम पर अपमानित व मानसिक तौर पर उत्पीड़ित किए जाने की शिकायत कलकत्ता हाई कोर्ट ने स्वीकार कर ली है। इस संबंध में अधिवक्ता व मानवाधिकार कार्यकर्ता भारती मुसद्दी, इम्तियाज अहमद के मौखिक आवेदन को सुनने के बाद मुख्य न्यायाधीश जेएन पटेल ने उन्हें लिखित जनहित मामला दायर करने का निर्देश दिया। गुरुवार को दायर हुए मामले को शुक्रवार सुबह सुनवाई के लिए निर्धारित किया गया है। अधिवक्ताओं ने न्यायालय को बताया कि एथलीट के साथ मेडिकल परीक्षण के नाम पर पशुओं की तरह आचरण हो रहा है, उसे एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल भेजा जा रहा है, जबकि राज्य के किसी अस्पताल में लिंग निर्धारण के लिए जरूरी मेडिकल परीक्षणों की व्यवस्था ही नहीं है। दो अस्पतालों में डेढ़ दर्जन डॉक्टरों के परीक्षण में जब उसे पुरुष साबित नहीं किया जा सका है, तब उसे जेल में रखने का कोई औचित्य भी नहीं है।