17 February 2019



प्रादेशिक
दिलीप चुप औऱ प्रभात झा के बयान
08-07-2012

आयकर छापों में करोड़ों रुपए की संपत्ति के मामले में जांच का सामना कर रहे ठेकेदार दिलीप सूर्यवंशी के मामले में अजीबो गरीब नजारा देखने को मिल रहा है। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा बढ़-चढ़ कर आयकर विभाग पर आरोप लगा रहे हैं लेकिन खुद दिलीप सूर्यवंशी चुप है। पत्रकारों ने जब श्री झा से यह पूछा कि आप बताएं की दिलीप और सुधीर ने बीजेपी और नेताओं को कितना फंड उपलब्ध कराया तो प्रभात झा बगलें झांकने लगे। इसे बीजेपी के लिए तो अच्छा नहीं कहा जाएगा कि चोर की हिमायत में बेवजह ही पार्टी की छीछालेदार कराई जाए। वैसे भी प्रभात झा को दिलीप सूर्यवंशी जैसे छोटे लोगों से बचना चाहिए और यह सोचना चाहिए कि वे प्रदेश में शासन चला रही एक बड़ी पार्टी के अध्यक्ष हैं उन्हें आखिर क्या जरूरत आन पड़ी है कि दिलीप सूर्यवंशी जैसे दागदार और कर चोरी में फंसे एक सड़ियल किस्म के ठेकेदार की हिमायत करें। कम से कम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से ही प्रभात झा कुछ सीख लें कि वे इस मामले में दिलीप की रत्ती भर भी हिमायत नहीं कर रहे हैं। प्रभात झा को बोलना ही है तो दिलीप के खिलाफ बोलते ताकि जनता में यह संदेश भी जाता कि बीजेपी शुचिता का दावा ही नहीं करती करके भी दिखाती है। आखिर दिलीप टाइप लोगों से थोड़े ही प्रदेश की सात करोड़ जनता का दिल जीता जा सकता है।