19 February 2019



खेलकूद
वरुण का चौंकाने व डराने वाला बयान
10-07-2012

नई दिल्ली. ऐसा लग रहा है कि अब भारतीय युवा क्रिकेटर आईपीएल और चैंपियंस लीग जैसे टी-20 टूर्नामेंटों को लेकर अपनी प्लानिंग करते हैं। झारखंड के प्रोमिसिंग फास्ट बॉलर वरुण आरोन एक बार फिर चोटिल होने के कारण भारतीय टीम से बाहर हो गए हैं। आरोन ने कहा है कि वे चैंपियंस लीग टी-20 तक फिट होने का प्रयास करेंगे। उनका यह बयाना थोड़ा चौंकाने वाला तो थोड़ा डराने वाला लगता है।पिछले साल वे पीठ की चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं जा सके थे और इस बार श्रीलंका के टूर से भी वे बाहर हो गए हैं। जब उन्हें टोटल फिटनेस हासिल करने के लिए नेट्स में पसीना बहाना चाहिए था, उस समय वे आईपीएल खेल रहे थे। आईपीएल में गेंदबाजी करने के बाद उनकी वह चोट एक बार फिर ताजा हो गई। अब इसी वजह से वे श्रीलंका दौरे से बाहर हैं।दिल्ली डेयरडेविल्स के मेंटर टीए सेकर का कहना है कि वरुण आईपीएल मैचों के दौरान पूरी तरह फिट थे। वे 145 किमी प्रति घंटे से अधिक रफ्तार वाली गेंदें भी डाल रहे थे, लेकिन उनकी यह चोट एक बार फिर सामने आ गई।सेकर ने वरुण आरोन को लेकर की गई लापरवाही का भी खुलासा किया। उन्होंने बताया, "आदर्श रूप से बोर्ड को आरोन को दिसंबर में ही इलाज के लिए ऑस्ट्रेलिया भेजना चाहिए था। वहां उन्हें बेहतर ट्रीटमेंट मिलता, लेकिन इसके स्थान पर उन्हें बेंगलुरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी भेज दिया गया। दो महीनों की देरी ने उनकी हालत को गंभीर कर दिया।"आईपीएल के दौरान आरोन कितने फिट थे इस पर उनका कहना है, "मुझे थोड़ी परेशानी हो रही थी, लेकिन मैं गेंदबाजी करने के लिए फिट था। इसलिए मैंने आईपीएल में हिस्सा लिया। जब मुझे लगा कि परेशानी कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है तो एनसीए लौट आया।"आरोन ने अब तक 4 वनडे और 1 टेस्ट मैच खेला है। वनडे में वे 6 विकेट ले सके हैं, जबकि टेस्ट में उन्हें कुल 3 सफलताएं हाथ लगी हैं। 23 अक्टूबर 2011 को अपना पहला वनडे इंगलैंड के खिलाफ मुंबई में खेलने वाले आरोन ने अंतिम एकदिवसीय मुकाबला 2 दिसंबर 2011 को वेस्ट इंडीज के विरुद्ध विशाखापट्टनम में खेला था।