19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
चीन भारत की सरहद पर बना रहा है हाइवे
12-07-2012

बीजिंग. चीन के अधिकारियों का कहना है कि जिनजियांग-तिब्‍बत नेशनल हाइवे के मरम्‍मत का काम जल्‍द पूरा हो जाएगा। यह हाइवे विवादित अक्‍साई चीन क्षेत्र से होकर गुजरता है। सरकारी न्‍यूज एजेंसी शिनहुआ ने जिनजियांग उइगर स्‍वायत्‍त क्षेत्र के स्‍थानीय अधिकारियों के हवाले से यह खबर दी है।इस हाइवे के जिनजियांग सेक्‍शन की मरम्‍मत का काम अगले महीने पूरा हो जाएगा। इस सेक्‍शन में अक्‍साई चीन क्षेत्र भी आता है जिस पर भारत और चीन अपने-अपने दावे करते हैं।अधिकारियों के मुताबिक इस हाइवे के 50 साल के इतिहास में पहली बार मरम्‍मत हुआ है। हाइवे पर काम 1951 में शुरू हुआ था जो 1957 में बनकर तैयार हो गया। 1962 की जंग से पहले भारत और चीन के बीच इस हाइवे को लेकर तनाव पैदा हुआ था।शिनहुआ के मुताबिक हाइवे की मरम्‍मत का काम सितंबर 2010 में शुरू हुआ था और इस पर 476 मिलियन डॉलर की लागत आई है।अक्‍साई चीन क्षेत्र 1950 के दशक से चीन के कब्‍जे में है। भारत इसे जम्मू और कश्मीर का उत्तर पूर्वी हिस्सा मानता है। अक्साई चीन जम्मू-कश्मीर के कुल क्षेत्रफल के पांचवें भाग के बराबर है। चीन ने इसे प्रशासनिक रूप से शिनजियांग प्रांत के काश्गर विभाग का हिस्सा बनाया है। इस बारे में अब तक 14 दौर की नाकाम बातचीत हो चुकी है।