19 February 2019



खेलकूद
नारंग को ओलंपिक से बहुत उम्मी दें
13-07-2012

नई दिल्ली। अनुभवी व पूर्व विश्व रिकॉर्डधारी निशानेबाज गगन नारंग तीसरी बार ओलंपिक में भाग लेने जा रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि ओलंपिक में मिला तीसरा मौका उनके लिए भाग्यशाली रहेगा। लंदन में निशानेबाजी में वह तीन स्पर्धाओं में अपनी चुनौती पेश करेंगे। राइफल निशानेबाज नारंग लंदन से पूर्व एथेंस और बीजिंग ओलंपिक में पदक जीतने में नाकाम रहे थे। खेलों के इस महाकुंभ में नारंग चार साल पहले मात्र एक अंक से फाइनल में पहुंचने से चूक गए थे। बीजिंग में भाग लेने से पहले नारंग ने शानदार प्रदर्शन करते हुए आईएसएसएफ विश्व कप, विश्व चैंपियनशिप, राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाड में पदक हासिल किया था। इसके अलावा उन्होंने 2008 में एक विश्व रिकार्ड भी बनाया था। नारंग ने कहा कि मैं पिछले दो बार [एथेंस 2004 और बीजिंग 2008] नाकाम रहा था और उम्मीद है कि तीसरा समय लकी रहेगा। नारंग 30 जुलाई को बीजिंग में ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा के साथ 10 मीटर एयर राइफल में भारत की तरफ से चुनौती पेश करेंगे। 10 मीटर के अलावा नारंग दो अन्य मुकाबलों में भी भाग लेंगे। नारंग तीन अगस्त को 50 मीटर राइफल प्रोन और छह अगस्त को 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में भाग लेकर ओलंपिक में पदक जीतने का अपना सपना पूरा करने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि ओलंपिक्स हर किसी का सपना होता है। हम इसका महत्व जानते हैं और लंबे इंतजार के बाद यह समय आया है। दो बार देश का प्रतिनिधित्व करने के बाद मैं कह सकता हूं कि मैं चीजों को बेहतर तरीके से नियंत्रित कर सकता हूं।