24 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
ओबामा की राजनीति ढीली
18-07-2012

वाशिंगटन। अमेरिका में लुइसियाना प्रांत के भारतीय मूल के गवर्नर बॉबी जिंदल ने राष्ट्रपति बराक ओबामा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बॉबी ने ओबामा को जिमी कार्टर के बाद सबसे ज्यादा उदारवादी और अक्षम राष्ट्रपति बताया है। नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के संभावित उम्मीदवार मिट रोमनी के समर्थन में आयोजित कार्यक्रम में बॉबी जिंदल भी शामिल हुए। पिछले कुछ दिनों से वह लगातार ओबामा पर हमला बोल रहे हैं। बॉबी ने मिट रोमनी के चुनाव अभियान के लिए 20 लाख डॉलर का अनुदान भी जुटाया। उन्होंने लुइसियाना की राजधानी बैटन रॉग में आयोजित कार्यक्रम मे ओबामा की आलोचना करते हुए कहा कि वह कड़े कदम नहीं उठा पाते हैं। ओबामा की राजनीति ढीली है। यह अमेरिकी नागरिकों के हित में नहीं है। ओबामा राजनीतिक सिद्धांतों पर नहीं चल सकते। इसलिए उन्होंने रोमनी के रिकॉर्ड पर हमला बोला और उसे तोड़-मरोड़कर पेश किया। बॉबी ने कहा कि आप जितनी बार टीवी खोलेंगे एक नया झूठ सामने पाएंगे। स्वतंत्र समीक्षकों और वाशिंगटन पोस्ट जैसे अखबार ने भी इन आरोपों को झूठा करार दिया है। इसके बावजूद रोमनी पर जुबानी हमले किए जा रहे हैं। जिंदल हाल में रोमनी के साथ कई अभियानों में देखे गए है। रोमनी ने ओबामा द्वारा लगाए गए आरोपों पर कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया। रोमनी ने कहा कि मुझे एक सफल बिजनेसमैन होने पर कोई ग्लानि नहीं है। मैं इसके लिए माफी नहीं मागूंगा। ओबामा की चुनाव टीम ने पिछले हफ्ते रोमनी और बेन कैपिटल के बीच सांठगांठ का आरोप लगाया था। ओबामा की टीम ने कहा था कि रोमनी ने नौकरियों को चीन और भारत में आउटसोर्स किया।