16 February 2019



खेलकूद
प्रभजोत सिंह को ओलंपिक में बढि़या प्रदर्शन की उम्मीद
19-07-2012

मुंबई [सुंदरी अय्यर]। पूर्व ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी प्रभजोत सिंह को भारतीय टीम से लंदन ओलंपिक में बढि़या प्रदर्शन की उम्मीद है लेकिन वह कहते हैं कि अगर टीम ने टॉप-6 में भी जगह बना ली तो यह हमारा बेहतर प्रदर्शन होगा।लंदन ओलंपिक में विश्व की दसवें नंबर की टीम भारत को ग्रुप बी में नीदरलैंड्स, बेल्जियम, जर्मनी, दक्षिण कोरिया और न्यूजीलैंड के साथ रखा गया है। भारत को पहले मुकाबले में नीदरलैंड्स से 30 जुलाई को भिड़ना है। प्रभजोत ने कहा कि ओलंपिक में हर टीम के ऊपर एक अलग तरह का दबाव होता है। हमारी टीम में कई युवा खिलाड़ी हैं जो पहली बार इस महाकुंभ में भाग ले रहे हैं। नीदरलैंड्स के खिलाफ पहले मैच में ही समझ में आ जाएगा कि वे दबाव का सामना किस तरह से करते हैं। अभी मैं भारतीय टीम के पदक जीतने पर कोई आशा व्यक्त नहीं कर सकता। भारतीय टीम के टॉप-6 में जगह बनाने पर ही मैं खुद को संतुष्ट महसूस करूंगा। टीम अगर शुरुआत में अच्छा प्रदर्शन करती है तो यह बेहतर होगा। अधिकतर हम टूर्नामेंट की शुरुआत में खराब प्रदर्शन करते हैं जिससे हमारा लक्ष्य खराब हो जाता है इसलिए हमें सबसे पहले डच टीम के खिलाफ जीत हासिल करनी होगी। यह जीत हमारी टीम के लिए उत्साह का काम करेगी।2004 एथेंस ओलंपिक में भारतीय टीम का हिस्सा रहे प्रभजोत को हॉकी इंडिया और भारतीय हॉकी संघ के बीच चल रहे विवाद के कारण लंदन ओलंपिक की टिकट नहीं मिली। विश्व सीरीज हॉकी में शेर-ए-पंजाब टीम की कप्तानी करने के कारण प्रभजोत चयनकर्ताओं के निशाने पर आ गए। अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित प्रभजोत ने कहा कि खिलाड़ी का काम होता है खेलना। दो संघों के बीच चल रहे विवाद के कारण मुझे निशाना बनाया गया। मुझे खेलने के कारण सजा मिली। इससे ज्यादा मैं क्या कह सकता हूं।