19 February 2019



खेलकूद
भारत की लंका पर जीत
23-07-2012

हम्बानटोटा [श्रीलंका]। कुमार संगकारा [133] की साहसिक शतकीय पारी और थिसारा परेरा [44] के साथ सातवें विकेट के लिए की गई 78 रनों की साझेदारी के बावजूद मेजबान श्रीलंका को पहले वनडे मुकाबले में भारत के हाथों 21 रनों से हार का सामना करना पड़ा। भारत की तरफ से विराट कोहली [106] ने शतक लगाया था। कोहली ने एक बार फिर लाजवाब बल्लेबाजी की और करियर का 12वां और श्रीलंका के खिलाफ चौथा शतक जमाया। उन्होंने अपनी शतकीय पारी में 113 गेंदों में नौ चौके लगाए। हालांकि सहवाग मात्र चार रन से शतक से चूक गए। सहवाग ने रन आउट होने से पूर्व 97 गेंदों में 10 चौका लगाया। अंतिम ओवरों में सुरेश रैना [50] ने 45 गेंदों में तीन चौका व एक छक्का जमाया। भारत ने 50 ओवर में छह विकेट पर 314 रन बनाए। थिसारा परेरा ने 10 ओवर में 70 रन देकर तीन विकेट झटके। जबकि लसिथ मलिंगा 10 ओवर में 83 रन देने के बावजूद विकेट लेने में नाकाम रहे। जवाब में संगकारा ने साहसिक शतकीय पारी और थिसारा परेरा के साथ सातवें विकेट के लिए की गई आतिशी 78 रनों की साझेदारी के बावजूद श्रीलंका 50 ओवर में नौ विकेट पर 293 रन ही बना सका। संगकारा ने जुझारू शतकीय पारी खेलते हुए 151 गेंदों में 12 चौका लगाया। भारत की तरफ आर अश्विन, जहीर खान और इरफान पठान ने दो-दो विकेट लिए। पांच मैचों की सीरीज में भारत ने 1-0 की बढ़त ले ली है। बड़े लक्ष्य के जवाब में श्रीलंका के बल्लेबाज तिलकरत्ने दिलशान को पहले ही ओवर में स्लिप खड़े सहवाग ने आसान जीवनदान दे दिया। हालांकि दिलशान इसका फायदा नहीं उठा सके और दूसरे ओवर में इरफान पठान की गेंद पर पगबाधा हो गए। दिलशान ने महज छह रन बनाए। ओपनर उपल थरंगा का साथ देने क्रीज पर संगकारा आए और इसी ओवर में उन्हें भी एक जीवनदान मिला। शानदार गेंदबाजी करने वाले पठान ने अपना अगला ओवर मेडन फेंका। संयम से खेलते हुए यह जोड़ी खतरनाक होती इससे पूर्व इस साझेदारी को 19वें ओवर में आर अश्रि्वन ने तोड़ दिया। अश्रि्वन के इस मेडन ओवर में थरंगा ने स्लिप में सहवाग को कैच थमाया। उन्होंने 47 गेंदों में 28 रन बनाए। थरंगा और संगकारा ने दूसरे विकेट के लिए 77 रनों की साझेदारी की। उमेश यादव ने भारत को जल्द ही एक और सफलता दिलाते हुए 26वें ओवर में दिनेश चांडीमल [13] को विकेट के पीछे कैच आउट कराया। प्रज्ञान ओझा ने 29वें ओवर में श्रीलंका को जोर का झटका देते हुए कप्तान महेला जयवर्धने को 12 रन के निजी स्कोर पर पगबाधा करा दिया। दूसरे छोर पर टिके संगकारा ने अपना अर्धशतक 78 गेंदों में जमाया। जहीर खान ने एंजेलो मैथ्यूज [7] को गौतम गंभीर के हाथों कैच आउट कराकर चलता किया। इसके बाद लाहिरू थिरिमने भी कुछ खास नहीं कर सके और सात रन बनाने के बाद अश्रि्वन [39वें ओवर] की गेंद के शिकार बने। अपना 98वां रन पूरा करते हुए संगकारा ने इस साल वनडे में अपने एक हजार रन पूरे कर लिए। इसी ओवर में उन्होंने अपना 14वां शतक भी पूरा किया। सातवें विकेट के लिए संगकारा ने परेरा के साथ अर्धशतकीय साझेदारी कर मैच में रोमांच ला दिया था। लेकिन भारत मैच अपने पक्ष में करने में सफल रहा। इससे पूर्व महिंदा राजपक्षे अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को जल्द ही शुरुआती झटका लगा जब गौतम गंभीर मात्र तीन रन बनाकर नुवान कुलाशेखरा की गेंद पर बोल्ड हो गए। शुरुआती झटके के बाद सहवाग ने कोहली के साथ पारी को आगे बढ़ाया और स्कोर सौ के पार पहुंचाते हुए बड़े स्कोर की नींव रखी। दोनों ने डेढ़ सौ से ज्यादा रनों की साझेदारी की। दोनों बल्लेबाजों ने दूसरी बार डेढ़ सौ से ज्यादा रनों की साझेदारी की। हालांकि बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले सहवाग आज शतक से चूक गए। 32वें ओवर में कोहली के एक शॉट पर सहवाग आगे बढ़ गए और गेंदबाज परेरा ने सटीक थ्रो से उन्हें रन आउट कर दिया। इसके बाद रोहित शर्मा मात्र पांच रन बनाने के बाद एंजेलो मैथ्यूज की गेंद पर बोल्ड हो गए। कोहली ने एक छोर संभालते हुए अपना शानदार शतक पूरा किया। रैना ने कप्तान धौनी के साथ पांचवें विकेट के लिए 75 रनों की साझेदारी निभाई। परेरा ने पारी के अंतिम ओवर की पहली दो गेंदों पर रैना और धौनी का विकेट लेकर हैट्रिक का चांस बना लिया था। लेकिन हैट्रिक से चूक गए।