16 February 2019



खेलकूद
टेस्टोस्टेरोन इंजेक्शन लेने की वजह से पिंकी में आया मर्दाना लक्षण
24-07-2012

नई दिल्ली । यौन प्रताड़ना के आरोपों का सामना कर रही महिला एथलीट पिंकी प्रमाणिक का दावा है कि टेस्टोस्टेरोन इंजेक्शन लेने की वजह से उसमें मर्दाना लक्षण आए। एक पत्रिका को दिए गए इंटरव्यू में पिंकी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में भाग लेने के दौरान उसने लगातार इस इंजेक्शन का प्रयोग किया। पिंकी ने बताया-'हमें बताया जाता था कि टेस्टोस्टेरोन रूस की दवा है। इसका सेवन हमारे अच्छे प्रदर्शन के लिए बेहद जरूरी है। हमने भी कभी इसके बारे में नहीं पूछा कि यह वैध है कि नहीं। इंजेक्शन की वजह से मेरी आवाज भारी हो गई।' पिछले महीने पिंकी के साथ रह रही एक महिला ने उस पर यौन प्रताड़ना का आरोप लगाया था। उसने कहा था कि पिंकी महिला नहीं पुरुष है। इस मामले में पिंकी जमानत पर चल रही है। पिंकी का कहना है कि महिला के आरोपों में कोई दम नहीं है। उसने मेरी कुछ नग्न तस्वीरें ले ली थीं और उसके दम पर मुझे ब्लैकमेल करती थी। पिंकी के दावे पर भारतीय एथलीट संघ से जुड़े पदाधिकारियों की प्रतिक्रिया नहीं प्राप्त हो पाई है। मालूम हो कि टेस्टोस्टेरोन हार्मोन पुरुषों में पाया जाता है, जो उनमें मर्दाना लक्षणों के लिए जिम्मेदार होता है।