17 February 2019



प्रादेशिक
बर्खास्त कांग्रेस विधायकों के मामले में कांग्रेस की गुपचुप रणनीति
25-07-2012

मध्यप्रदेश विधानसभा द्वारा बर्खास्त कांग्रेस विधायक चौधरी राकेश सिंह तथा कल्पना परुलेकर के मामले में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने कांग्रेस हाईकमान को रिपोर्ट सौंप दी है। भूरिया ने राहुल गांधी से मुलाकात के बाद साफ कहा है कि दोनों विधायकों ने संगठन से पूछे बिना ही माफी मांगकर कांग्रेस की काफी किरकिरी कराई है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बीजेपी बैकफुट पर थी लेकिन कांग्रेस विधायकों द्वारा माफी मांगने के बाद से कांग्रेस की जनता के बीच छवि काफी खराब हुई। कहा जा रहा है कि कांग्रेस के मध्यप्रदेश प्रभारी बीके हरिप्रसाद 27 जुलाई के बाद इस मामले में कांग्रेस की ओर से कोई फैसला सुना सकते हैं। वे खुद भी राकेश औऱ कल्पना के कदम से हैरान हैं क्योंकि माफी मांगने के एक दिन पहले ही सारे विधायकों ने एक जुट होकर इस्तीफे देने की पेशकश की थी जिससे प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में और बीजेपी के खिलाफ अच्छा माहौल बन गया था। अब हरिप्रसाद 27 जुलाई के बाद कांग्रेस हाईकमान के निर्देश के अनुरूप कोई सख्त फैसला सुना सकते हैं।