16 February 2019



खेलकूद
श्रीलंका की मंशा रह गई धरी की धरी
08-08-2012

पेल्लेकल। विराट कोहली [68] की एक बार फिर खेली गई धुआंधार पारी और इसके बाद इरफान पठान के तिहरे झटकों से श्रीलंका की टीम इस कदर सहम गई कि वनडे सीरीज में मिली करारी शिकस्त का बदला लेने की उनकी मंशा धरी की धरी रह गई और दौरे के एकमात्र ट्वंटी-20 मुकाबले में भारत ने मेजबान टीम को 39 रनों से हराकर जीत के साथ अपने अभियान को समापन किया। श्रीलंकाई दौरे के दौरान वनडे सीरीज में दो शतक ठोकने वाले कोहली ने आज टी-20 करियर में अपना पहला अर्धशतक जमाया। कोहली ने 48 गेंदों में 11 चौका व एक छक्का भी ठोका। जबकि सुरेश रैना ने 23 गेंदों में तीन चौका व एक छक्का लगाकर 34 रनों की नाबाद पारी खेली। वहीं कप्तान धौनी 16 रन बनाकर नाबाद लौटे। भारत ने 20 ओवर में तीन विकेट पर 155 रन बनाए। यह श्रीलंका के खिलाफ टी-20 में भारत का न्यूनतम स्कोर है। जवाब में पठान और अशोक डिंडा ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका की टीम को 18 ओवर में 116 रन पर समेट दिया। श्रीलंका की ओर से एंजेलो मैथ्यूज ने सर्वाधिक 31 रन [29 गेंद] बनाए। पठान ने 27 रन देकर तीन जबकि डिंडा ने 19 रन देकर चार विकेट झटके। वीरेंद्र सहवाग की जगह अंजिक्य रहाणे और जहीर खान की जगह उमेश यादव को रखा गया। भारत के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और जहीर खान इस मैच से पूर्व ही स्वदेश लौट गए। भारत ने इससे पूर्व पांच मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम किया था। लक्ष्य का पीछा करने उतरे श्रीलंका को पहले ही ओवर की पांचवीं गेंद पर पठान ने दिलशान तिलकरत्ने को बोल्ड कर चलता किया। दिलशान को पठान ने वनडे सीरीज में कई बार आउट किया था। दिलशान अपना खाता भी नहीं खोल सके थे। इसके बाद पठान ने अपने अगले ओवर में उपल थरंगा [5] को स्लिप में रैना के हाथों कैच आउट कराकर मेजबान टीम को जोर का झटका दिया। उन्होंने लगातार तीसरे ओवर में भी सफलता हासिल करते हुए कप्तान महेला जयवर्धने [26] को पगबाधा कराकर खतरनाक बनने से पूर्व ही चलता कर दिया। इससे पूर्व अपना पहला टी-20 मैच खेल रहे उमेश यादव के दूसरे ओवर में महेला ने पांच गेंदों में चार चौके जमाकर अपने तेवर दिखाए थे। हालांकि महेला अगले ओवर में 19 गेंदों पर पांच चौका लगाकर आउट हो गए। लाहिरू थिरिमने और एंजेलो मैथ्यूज ने क्रीज पर कुछ देर टिककर चौथे विकेट के लिए 33 रनों की साझेदारी की। इस साझेदारी को आर अश्विन ने थिरिमने को बोल्ड कर तोड़ा। थिरिमने ने 20 रन बनाए। इसके बाद अशोक डिंडा ने मैथ्यूज [31 रन, 29 गेंद] को धौनी के हाथों कैच आउट कराया। दूसरे ओवर में चार चौके देने वाले यादव ने वापसी करते हुए 15वें ओवर में जीवन मेंडिस [11] को कैच आउट कराकर अपनी पहली सफलता हासिल की। मेजबान टीम ने सौ रन बनते-बनते अपने छह विकेट गंवा दिए। नए बल्लेबाज थिसारा परेरा एक रन बनाने के बाद रन चुराने के प्रयास में रन आउट हो गए। 18वें ओवर में डिंडा ने दिनेश चंडीमल [7], शामिंडा इरांगा [6] और लसिथ मलिंगा [0] को आउट कर कुल चार सफलता हासिल की। इससे पूर्व पहले गेंदबाजी करने के फैसले को सही ठहराते हुए अपना पहला टी-20 मैच खेलने वाले शमिंडा इरांगा ने पारी की दूसरे ही ओवर में गौतम गंभीर [6] को बोल्ड कर भारत को पहला झटका दे दिया है। शुरुआती झटके के बाद अंजिक्य रहाणे का साथ देने कोहली आए और श्रीलंका के खिलाफ एक बार फिर जोरदार बल्लेबाजी का नजारा पेश किया। इरांगा समेत सभी गेंदबाजों को अपना निशाना बनाते हुए कोहली ने जमकर प्रहार किया और टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेल डाली। कोहली ने इस बीच 32 गेंदों में अपना पचाया पूरा किया। हालांकि आईपीएल में जोरदार बल्लेबाजी करने वाले रहाणे आज भी बड़ी पारी नहीं खेल सके और कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी निभाने के बाद मेंडिस की गेंद पर कॉटएंडबोल्ड हो गए। रहाणे ने 25 गेंदों में एक छक्के की मदद से 21 रन बनाए। दूसरी ओर कोहली ने लाजवाब पारी खेलते हुए श्रीलंका के खिलाफ टी-20 में भारत की ओर से सबसे बड़ी पारी खेली और 68 रन बनाए। इरांगा ने कोहली की पारी का अंत 17वें ओवर में कैच आउट कराकर किया। कप्तान धौनी ने 14 गेंदों में 16 रनों की अविजित पारी खेली।