18 February 2019



खेलकूद
कुश्ती प्रतियोगिता में भी मिली निराशा
11-08-2012

लंदन। भारत के लिए लंदन ओलंपिक की कुश्ती प्रतियोगिता में शुक्रवार का दिन बेहद निराशाजनक रहा, जब उसके दोनों पहलवान अमित कुमार दाहिया और नरसिंह यादव अपने-अपने वर्ग में हार गए। लंदन ओलंपिक के 14वें दिन भारत की ओर से सिर्फ ये दोनों पहलवान ही चुनौती पेश कर रहे थे।
भारतीय कुश्ती दल के सबसे युवा पहलवान 19 वर्षीय अमित के पास कांस्य पदक जीतने का मौका था, लेकिन वे रेपेचेज राउंड में अपनी चुनौती को बरकरार नहीं रख सके, जबकि उनके साथी नरसिंह पहले दौर में ही बाहर हो गए और उन्हें रेपेचेज राउंड में खेलने का मौका भी नहीं मिला। अमित ने 55 किग्रा फ्रीस्टाइल के प्री-क्वार्टर फाइनल में अपने से कहीं मजबूत और लंबे ईरान के पहलवान रहीमी हसन सबजाली को 3-1 से हराकर अच्छी शुरूआत की थी, लेकिन अगले दौर में उन्हें जार्जिया के व्लादिमीर खिंचेगाशविली के हाथों इसी स्कोर से हार का सामना करना पड़ा। दूसरी तरफ 74 किग्रा वर्ग में नरसिंह के पास अपने से बेहतर कनाडाई प्रतिद्वंद्वी मैथ्यू जुडाह गेंट्री का कोई जवाब नहीं था।