19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
नफरत का शिकार हुआ एक और नाटो सैनिक
21-08-2012

 अफगानिस्तान नेशनल पुलिस की पोशाक पहने अफगान नागरिक ने सोमवार को एक नाटो सैनिक की हत्या कर दी। इस वर्ष ऐसी घटनाओं में मरने वाले नाटो सैनिकों की संख्या अब 40 हो गई है। इस प्रकार के हमलों से अमेरिका और नाटो के अन्य देशों की चिंता बढ़ गई है। मारा गया सैनिक किस देश का है, इसकी जानकारी नहीं दी गई है। एक अधिकारी ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में हमलावर भी मारा गया है। ताजा घटना के बाद अमेरिकी ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ के प्रमुख जनरल मार्टिन डिंपसे ने अफगानिस्तान का गैर-प्रस्तावित दौरा किया। वह नाटो और अफगानिस्तान के सैन्य अधिकारियों से मुलाकात करेगे। साथ ही अफगानिस्तान में शीर्ष अमेरिकी सैन्य कमांडर जनरल जॉन आर एलन से भी मिलेंगे। अफगानिस्तान सुरक्षा बलों की ओर से अमेरिकी और नाटो सैनिकों पर बढ़ते हमलों के लिए अमेरिका की शक की सुई तालिबान पर है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन की ओर से जारी वक्तव्य में कहा गया कि बढ़ते दबाव के कारण तालिबान हमलों के नए तौर-तरीके ढूंढ़ रहा है। तालिबान पहले ही कह चुका है कि उसने अफगान राष्ट्रीय सुरक्षा बल (एएनएसएफ) में अपनी पैठ बना ली है। अमेरिकी और नाटो सैनिकों पर बढ़ते हमलों पर रक्षा मंत्री लियोन पेनेटा और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करजई के बीच भी चर्चा हो चुकी है।