19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
नहीं होता कमांडों हमला तो पाकिस्तान जाकर बम गिरा देता अमेरिका
10-09-2012
एबटाबाद में दुनिया के सबसे वांछित आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को मारने गिराने के मिशन को अंजाम देने के लिए नेवी सील कमांडो अमेरिका की पहली पसंद नहीं थी। अमेरिका ने शुरुआत में बी- 2 स्पिरित बमवर्षक विमानों का इस्तेमाल कर बड़े स्तर पर हवाई हमले की योजना बनाई थी। लादेन को मार गिराने वाले दस्ते में शामिल सील कमांडो मैट बिसोनेट की किताब ‘नो इजी डे : द फर्स्ट हैंड अकाउंट ऑफ द मिशन दैट किल्ड ओसामा बिन लादेन’ से यह खुलासा हुआ है। चार सितंबर को यह किताब जारी की गई थी। इस किताब को बिसोनेट ने मार्क ओवन के छद्म नाम से लिखा है। किताब में एबटाबाद अभियान से जुड़ी तमाम चीजों पर विस्तार से रोशनी डाली गई है। बिसोनेट ने किताब में लिखा है कि लादेन को मार गिराने के लिए राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनके सलाहकारों ने अंतिम क्षण तक विभिन्न विकल्पों पर विचार किया। एबटाबाद स्थित लादेन के घर को नष्ट करने के लिए बी-2 बमवर्षक विमान से हवाई हमले की योजना पर विचार किया जा रहा था। हालांकि तब भी जमीनी हमले के विकल्प को राष्ट्रपति ने खारिज नहीं किया था। सील कमांडो को योजना बनाने और पूर्वाभ्यास करने को कहा गया था।