19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
रोमनी के खिलाफ ओबामा का चीनी कार्ड
18-09-2012
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव को जब केवल 50 दिन रह गए है, मौजूदा राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नौकरियां आउटसोर्स करने को लेकर अपने रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी मिट रोमनी के खिलाफ चीनी कार्ड खेला है। ओहियो राज्य के सिनसिनाटी में सोमवार को एक चुनाव अभियान को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा, \'मैं केवल बातें नहीं करना चाहता, बल्कि अपनी बातों पर अमल भी करना चाहता हूं।\' ओबामा के चुनाव अभियान के संबंध में एक नया टेलीविजन विज्ञापन भी जारी किया गया है, जिसमें ओबामा ने यह आरोप लगाया है कि निवेश कंपनी बेन कैपिटल के प्रमुख के रूप में आउटसोर्सिग के अगुवा रहे रोमनी ने अमेरिकी नौकरियों को भारत तथा चीन जैसे देशों में भेजा। ओबामा ने कहा कि ऐसे में जबकि आपने हमारी नौकरियां चीन तक पहुंचाई है, आप उसके आमने-सामने नहीं हो सकते। आप अच्छी बातें कर सकते है, लेकिन मैं अपनी बातों को अमल में भी लाना चाहता हूं, न कि सिर्फ बातें करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि मेरा अनुभव दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है और मैं विश्व अर्थव्यवस्था में अमेरिकी कामगार वर्ग को बेहतर अवस दिलाने के लिए हर सम्भव कोशिश कर रहा हूं। ओबामा ने कहा कि हमें ऐसे लोगों की आवश्यकता नहीं है, जो चुनाव के समय व्यापार की परंपराओं को लेकर चिंता जताते है, लेकिन चुनाव से पहले वे अनुचित व्यापार परंपराओं का लाभ लेते है।विज्ञापन में वर्ष 2009 के अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय व्यापार आयोग संघीय पंजीकरण नोटिस का जिक्र करते हुए कहा गया है, \'चीनी टायर की अधिक संख्या के कारण जब हजारों अमेरिकी नागरिकों की नौकरी पर खतरा आया तो राष्ट्रपति ओबामा सामने आए और उन्होंने अमेरिकी कामगारों को बचाया। विज्ञापन में मीडिया रिपोर्ट का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि ओबामा ने जब अमेरिकी नागरिकों की नौकरियां बचाने के लिए चीन निर्मित टायरों पर अधिक शुल्क लगाए तो रोमनी ने कहा था कि \'चीन के खिलाफ इस तरह का रुख राष्ट्र तथा हमारे कामगारों के लिए ठीक नहीं है।\'