19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
ईरान ने जीमेल पर लगाया प्रतिबंध
25-09-2012
ईरान ने इंटरनेट के सबसे बड़े सर्ज इंजन गूगल की लोकप्रिय जीमेल सेवा पर पूरे देश में प्रतिबंध लगा दिया है। देश को दुनिया भर में फैले इंटरनेट के जाल से काट कर पूरी तरह से राष्ट्रीय इंटरनेट की दुनिया तक सीमित कर देने के प्रयासों के तहत यह पहला कदम उठाया गया है। जीमेल के साथ गूगल सर्च इंजन पर भी रोक लगा दी गई है। इस प्रतिबंध की घोषणा मोबाइल फोन पर एसएमएस भेजकर की गई। संदेश ईरान के लोक अभियोजक अब्दुल समद खुरमबादी की ओर से जारी किया गया है। संदेश में लिखा है, जनता की भारी माग पर पूरे देश में गूगल और जीमेल को फिल्टर किया जाएगा। अगली सूचना तक इन्हें फिल्टर किया जाता रहेगा। सरकार के इस कदम से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। तेहरान के कई निवासियों ने कहा कि वे अपने जीमेल अकाउंट नहीं खोल पा रहे हैं। बताते चलें कि ईरान के अधिकतर व्यापारी विदेश व्यापार के लिए जीमेल का ही इस्तेमाल करते हैं। जीमेल के जरिए ही इनके बीच जरूरी दस्तावेजों का आदान प्रदान भी होता है। इससे पहले गत फरवरी में संसदीय चुनावों को देखते हुए भी गूगल और जीमेल को प्रतिबंधित कर दिया गया था। ईरान में वर्ष 2009 से गूगल की लोकप्रिय सेवा यूट्यूब पर भी पाबंदी लगी हुई है। इसके अलावा फेसबुक और ट्विटर जैसी सोशल नेटवर्किंग साइटों को भी नियमित रूप से ब्लॉक किया जाता रहा है। इंटरनेट पर इतनी पाबंदिया लगाने के सिलसिले में ईरान की आलोचना भी होती रही है।