16 February 2019



राष्ट्रीय
पीएम अर्थशास्त्र में फेल विद्यार्थी-गडकरी
27-09-2012
आज एक बार फिर भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने यूपीए सरकार को डूबता हुआ जहाज बताया। आज कांग्रेस पर बरसते हुए गडकरी ने कहा कि यूपीए के साथी बाहर आ रहे हैं। यूपीए के समर्थक दल भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। कांग्रेस अपने भ्रष्टाचार को भी सहयोगी दलों पर मढ़ने में माहिर है। भ्रष्टाचार के लिए पीएम और सोनिया को जिम्मेदार ठहराया। इस सरकार की बड़ी ताकत सीबीआई है। सीबीआई पर कटाक्ष करते हुए इसे क्रांग्रेस ब्यूरो ऑफ इनवेस्टिगेशन बताया। यूपीए सरकार जरूर गिरेगी। गडकरी ने कहा कि एफडीआई आने से छोटे व्यापारी बर्बाद हो जाएंगे। पीएम पर कटाक्ष करते हुए गडकरी ने कहा कि पीएम अर्थशास्त्र में फेल हुए हैं। भाजपा ने कहा है कि मल्टीब्रांड रिटेल में सीधे विदेशी निवेश (एफडीआई) का फैसला सरकार लागू नहीं कर पाएगी। उसे यह फैसला वापस लेना होगा। यहां बुधवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से इतर मीडिया से बातचीत में पार्टी नेताओं ने ये तेवर दिखाए। पार्टी प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘हम अगली सरकार बनने तक इंतजार नहीं करेंगे। इसी सरकार को एफडीआई का फैसला वापस लेने पर मजबूर कर देंगे।’ रविशंकर प्रसाद ने तो पार्टी के सत्ता में आने पर इस फैसले को पलटने के संकेत दे दिए। कहा, ‘हम रिटेल में एफडीआई का विरोध करते हैं।  सत्ता में आए तो इसके अनुसार ही निर्णय लेंगे।’ इससे पहले भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने कार्यकारिणी की बैठक के उद्घाटन सत्र में अध्यक्षीय भाषण दिया। कहा, ‘जब यूपीए-2 सरकार बनी थी तो उन्होंने 100 दिन में महंगाई कम करने का वादा किया था। लेकिन महंगाई सुरसा की तरह मुंह फैलाती गई। उससे भी बड़ा मुंह कांग्रेस पार्टी ने खोला। चार लाख 84 हजार करोड़ रुपए का माल डकार लिया।’ गडकरी ने कहा, ‘इस सरकार में भ्रष्टाचार का संस्थाकरण कर दिया। प्रधानमंत्री को कांग्रेस ने महान अर्थशास्त्री के रूप में पेश किया था। लेकिन वे अनर्थशास्त्री साबित हुए। कांग्रेस महंगाई और भ्रष्टाचार के लिए भाजपा को जिम्मेदार बता रही है। आखिर इस कुतर्क के पीछे कौन-सी मानसिकता है?’ तीन दिवसीय बैठक के पहले दिन पार्टी के राजनीतिक और आर्थिक प्रस्ताव का मसौदा तैयार किया गया। इन प्रस्तावों को पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में पारित किया जाएगा। परिषद की बैठक गुरुवार और शुक्रवार को होगी।