18 February 2019



प्रादेशिक
खुदरा व्यापार में पूँजी निवेश छोटे व्यापारियों के हित में नहीं- श्री चौहान
05-10-2012
मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि खुदरा व्यापार में विदेशी पूँजी निवेश से छोटे व्यापारियों के रोजगार पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि औद्योगिक अधोसंरचना निर्माण, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा और ऑटोमोबाइल जैसे बड़े क्षेत्र में विदेशी पूँजी निवेश का स्वागत है। वे वाशिंगटन में गुरुवार को सहायक सचिव यूनाइटेट स्टेट दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों में राबर्ट ब्लेक से चर्चा कर रहे थे।श्री चौहान ने स्पष्ट किया कि खुदरा व्यापार में विदेशी पूँजी निवेश छोटे और मझोले व्यापारियों के हित में नहीं है। वे प्रतियोगिता में टिक नहीं पायेंगे और उनकी जीविका का आधार समाप्त हो जायेगा।श्री चौहान ने श्री ब्लेक को मध्यप्रदेश की आर्थिक प्रगति और कृषि क्षेत्र की वृद्धि दर की जानकारी देते हुए विकास के लिये नवाचारी व्यवस्थाएँ और नीतियों से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि सभी वर्गों को आर्थिक उन्नति के समान अवसर मिलें और विकास के सभी क्षेत्रों के समान एवं संतुलित विकास की सोच को प्रदेश में अपनाया गया है।श्री ब्लेक ने मध्यप्रदेश के प्रयासों और विकास की सोच की सराहना करते हुए कहा कि पूँजी निवेश के लिये उचित समाधान निकालने की पहल की जायेगी। उन्होंने कहा कि अमेरिका के अन्य राज्य और मध्यप्रदेश राज्य के बीच निवेश के लिये सेतु कैसे बन सकता है, इस मुद्दे पर विचार प्रक्रिया शुरू की जायेगी।भारतीय मुद्दों के संचालक श्री जॉन. जे. फेनर्टी, भारतीय डेस्क प्रतिनिधि यू.एस. डिपार्टमेन्ट ऑफ स्टेट श्री मेरिन राजदुर्रानी उपस्थित थे। श्री राबर्ट ब्लेक से चर्चा के बाद श्री चौहान डेट्राइट पहुँचे। उन्होंने वहाँ प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय और फोर्ड संग्रहालय देखा। श्री चौहान पाँच अक्टूवर को रॉस बिजनेस स्कूल मिशिगन विश्वविद्यालय में आंतरिक बदलाव-राज्य आधारित विकास\'\' विषय पर व्याख्यान देंगे।