19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
तालिबान को दक्षिणी वजीरिस्तान खाली करने का फरमान
03-12-2012
आत्मघाती हमले के दो दिन बाद ही सरकार समर्थित मुल्ला नजीर ने महसूद आदिवासियों और तालिबान आतंकियों को दक्षिणी वजीरिस्तान के कुछ खास इलाकों को छोड़ देने का आदेश दिया है। साथ ही चेतावनी दी है कि 5 दिसंबर तक ऐसा न करने पर कार्रवाई का सामना करने को तैयार रहें। वर्ष 2007 में पाकिस्तानी सेना के साथ शांति समझौता करने वाले नजीर ने आतंकी गुटों के प्रमुखों, शांति पसंद समूहों और कबीलों के सरदारों और धर्मगुरुओं को ऐसा करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं। द. वजीरिस्तान के सबसे बड़े शहर वाना की कौंसिल ने घोषणा की है कि 5 दिसंबर के बाद किसी भी महसूद और आतंकी गुट के व्यक्ति को पनाह देने वाले से एक लाख का जुर्माना वसूला जाएगा और उसका धर ध्वस्त कर दिया जाएगा। यह घोषणा लाउडस्पीकर पर वाना, आजम वरसक, करीकोर्ट और तोइखुला इलाकों में की गई। नजीर वाना में एक आत्मघाती हमले में घायल हो गए थे। इस हमले में सात लोग मारे गए थे।