19 February 2019



खेलकूद
शतक से चूके तेंदुलकर, भारत की आधी टीम आउट
05-12-2012
तीसरे टेस्ट मैच के शुरुआती दिन सचिन तेंदुलकर [76] और गौतम गंभीर [60] के अर्धशतकीय पारियों की बदौलत भारत ने समाचार लिखे जाने तक पांच विकेट पर 230 रन बना लिए हैं। चायकाल के बाद लौटते ही चौके के साथ तेंदुलकर ने अपना 66वां पचासा पूरा किया लेकिन वह शतक से चूक गए। साथ ही उन्होंने आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने 34 हजार रन का आंकड़ा भी पार कर लिया है।

क्रीज पर कप्तान धौनी छह रन और आर अश्विन बगैर खाता खोले खेल रहे हैं। चायकाल के बाद तेंदुलकर पहली ही गेंद पर स्टीवन फिन चौका जमाकर अपना 66वां पचासा पूरा किया। पिछली 10 पारियों के बाद तेंदुलकर के बल्ले से यह पचासा निकला है। उन्होंने इससे पूर्व इसी साल जनवरी में सिडनी टेस्ट में 80 रनों की पारी खेली थी। हालांकि वह जेम्स एंडरसन की गेंद पर विकेटकीपर के हाथों लपके गए। इससे पूर्व गंभीर ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए आज करियर का 21वां टेस्ट व लगातार दूसरा अर्धशतक भी जमाया। गंभीर ने 124 गेंदों में 12 चौके की मदद से 60 रन बनाए। बाएं हाथ के इस सलामी बल्लेबाज ने इससे पूर्व मुंबई टेस्ट की दूसरी पारी में अर्धशतक जमाया था। आउट ऑफ फार्म चल रहे तेंदुलकर ने लंच के बाद लौटने पर पनेसर के ओवर में एक रन लेकर अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 34 हजार रन बनाने का आंकड़ा छू लिया। वह यह आंकड़ा पार करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। तेंदुलकर से पीछे हाल ही में संन्यास लेने वाले रिकी पोंटिंग 27,483 रन बनाकर दूसरे स्थान पर बने हुए हैं। अभी तक मोंटी पनेसर ने दो विकेट चटकाए हैं। चार टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर पर है और दोनों टीमें पिछले एक सप्ताह से चल रहे पिच विवाद को पीछे छोड़कर इस मैच को जीतकर बढ़त लेने की कोशिश करेगी। भारत ने अहमदाबाद टेस्ट जीता था लेकिन मुंबई में दूसरे मैच में इंग्लैंड ने जीत हासिल कर सीरीज को बराबरी पर ला दिया।

इससे पूर्व टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने भारतीय पारी की शुरुआत अच्छी कराने के बाद सहवाग 23 रन बनाकर रन आउट हुए। इसके बाद लंच से तुरंत पहले चेतेश्वर पुजारा 16 रन बनाकर मोंटी पनेसर की गेंद पर बोल्ड हुए। लगातार दो टेस्ट मैचों में शतक जमाने वाले पुजारा आज बढि़या बल्लेबाजी नहीं कर सके और पनेसर की एक बेहतरीन गेंद पर बोल्ड हो गए। लंच तक नाबाद लौटने वाले गंभीर क्रीज पर जम चुके थे लेकिन पनेसर की बाउंस होती गेंद को खेल बैठे और वह स्लिप में जोनाथन ट्राट के हाथों कैच आउट हो गए। गंभीर ने 124 गेंदों में 12 चौके की मदद से 60 रन बनाए। गंभीर के बाद विराट कोहली ने मोर्चा संभाला लेकिन वह ज्यादा देर तक क्रीज पर टिके नहीं रह सके और 24 गेंदों का सामना करने के बाद छह रन बनाकर कैच आउट हो गए। वह जेम्स एंडरसन की गेंद पर स्लिप में लपके गए। युवराज सिंह ने 32 रनों की पारी खेली। वह ग्रीम स्वान की गेंद पर कैच आउट हुए।