17 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
मलाला ने उठाए भारत सरकार की मंशा पर सवाल
29-12-2012
पाकिस्तान में महिलाओं की आजादी की मांग उठाने वाली और लंदन में अपना इलाज करा रही मलाला यूसुफजई ने दिल्ली गैंगरेप पीड़ित की मौत पर गहरा दुख जताया है। मलाला ने ट्वीट के जरिए अपने दुख और गुस्से का इजहार किया है। मलाला ने इस मुद्दे पर भारत सरकार को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है। मलाला ने कहा है कि इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों ने पीड़ित को सड़क पर मरने को छोड़ दिया था वहीं सरकार ने भी उसको सिंगापुर में मरने के लिए भेज दिया। इसका क्या अर्थ है गौरतलब है कि यूसुफ मलाला पाकिस्तान में महिलाओं की शिक्षा के खिलाफ आवाज बुलदं करती रही है। इसकी कीमत उसको पाकिस्तान तालिबान की गोलियों का निशाना बनकर चुकानी पड़ी थी। पाकिस्तान सरकार ने उसको बेहतर इलाज के लिए लंदन भेजा था, जहां उसका इलाज चल रहा है। उसकी हालत में भी पहले से ज्यादा सुधार है। मलाला ने भारत में हुई इस शर्मनाक घटना पर अपना गुस्सा जाहिर किया है। दिल्ली गैगरेप पीड़ित को सिंगापुर भेजने का मुद्दा लगातार विवादों में घिरता जा रहा है। मलाला से पहले भी भारत के कुछ डॉक्टर सरकार की मंशा पर सवाल उठा चुके हैं। इस शर्मनाक घटना की पूरी दुनिया में भ‌र्त्सना की गई है। अब पूरी दुनिया की नजरें भारत पर टिकी हैं कि आखिर कब उन आरोपियों को सजा होगी और पीड़ित के परिजनों को न्याय मिल सकेगा।