19 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
कैंसर को जड़ से मिटाने वाली कोशिकाएं विकसित
05-01-2013
शोधकर्ताओं ने पहली बार ऐसी कोशिकाएं विकसित की हैं, जो शरीर में कैंसरग्रस्त कोशिकाओं को नष्ट कर देंगी। इन्हें मरीज के शरीर में इंजेक्ट किया जा सकता है। जापान के शोधकर्ताओं ने कैंसरग्रस्त कोशिकाओं को खत्म कर देने वाली ये विशिष्ट कोशिकाएं विकसित की हैं। ब्रिटिश अखबार डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, \'ये कोशिकाएं प्राकृतिक रूप से बहुत ही थोड़ी मात्रा में मिलती हैं, लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि इन्हें मनुष्य के शरीर में इंजेक्ट करने पर यह प्रतिरक्षा प्रणाली को इतना मजबूत कर देंगी कि कैंसर से प्रभावित कोशिकाएं नष्ट हो जाएंगी \'। रिपोर्ट में कहा गया है, आरआइकेईएन रिचर्स सेंटर फॉर एलर्जी एंड इम्युनोलॉजी के शोधकर्ता दुनिया में पहली बार कैंसर संबंधित प्रतिरक्षा प्रणाली की कोशिकाएं \'टी लिंफोकेट्स\' विकसित करने में सफल रहे हैं।\' रिपोर्ट के अनुसार भविष्य में कैंसर के उपचार में इन कोशिकाओं का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इससे पहले के शोध में परंपरागत तरीके से प्रयोगशाला में तैयार की गई टी लिंफोसाइट्स कोशिकाओं का जीवन काफी छोटा होता था और वे कैंसर के इलाज में नाकाफी साबित हो रही थी। इसी समस्या से निजात पाने के लिए जापान के प्रमुख शोधकर्ता हीरोस्की क्वामोटो ने परिपक्व टी लिंफोसाइट्स को आइपीएस कोशिकाओं में मिलाकर एक नया शोध किया और कैंसर को पूरी तरह खत्म करने वाली कोशिकाएं विकसित करने में सफलता प्राप्त की।