17 February 2019



प्रमुख समाचार
औद्योगिक क्षेत्र गोविन्दपुरा को पूर्ण रूप से अतिक्रमण मुकत करे
09-01-2013

नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री बाबूलाल गौर ने अधिकारियों को भोपाल के गोविंदपुरा औद्योगिक क्षेत्र को पूर्ण रूप से अतिक्रमण मुक्त करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में बिजली, सड़क, पानी जैसी बुनियादी सुविधाएँ उद्योगों को दिलवाई जाये। श्री गौर आज मंत्रालय में बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। बैठक में महापौर श्रीमती कृष्णा गौर और अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग श्री पी.के.दाश भी मौजूद थे।

बैठक में निर्णय लिया गया कि औद्योगिक क्षेत्र से लगे रूपनगर की 602 झुग्गी के विस्थापन के लिये जिला प्रशासन पुनर्वास स्थल का 15 दिन के भीतर विकास करे। औद्योगिक क्षेत्र गोविन्दपुरा में यातायात को सुगम बनाने के लिये अयोध्या बायपास से रायसेन रोड को जोड़ने के लिये फोर लेन रोड का निर्माण एक वर्ष के भीतर किये जाने का भी निर्णय लिया गया। इसके लिये इस मार्ग के आसपास के अतिक्रमण को हटाने एवं प्रभावितों को अन्यत्र बसाने के संबंध में भी चर्चा की गई।

बैठक में औद्योगिक क्षेत्र में स्ट्रीट लाईट एवं विद्युत व्यवस्था के संबंध में निर्णय लिया गया कि पूरे औद्योगिक क्षेत्र में बिजली की नई व्यवस्था की जाये। इस कार्य के लिये लगभग 2 करोड़ रुपये का प्रावधान रखा गया है। नगर निगम द्वारा अब तक 192 विद्युत पोल, 120 विद्युत एनर्जी की फिटिंग कर दी गई है। औद्योगिक क्षेत्र के चार स्थान पर हाई मास्ट लाईट स्थापित की जा चुकी है। औद्योगिक क्षेत्र में जल वितरण व्यवस्था के संबंध में भी चर्चा की गई।

महाप्रबंधंक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री मोहन चतुर्वेदी ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र में पुरानी पाइप लाइन को बदला जाना जरूरी है। क्षेत्र में नर्मदा से जलप्रदाय की 5 करोड़ की परियोजना मंजूर की गई है। इस कार्य के लिये नगर निगम भोपाल को राशि भी जारी की गई है। वर्तमान में ओव्हर हेड टैंक का निर्माण प्रगति पर है।

औद्योगिक क्षेत्र गोविन्दपुरा में 600 इंजीनियरिंग औद्योगिक इकाइयाँ कार्यरत है। कुल 729 एकड़ में फैला यह औद्योगिक क्षेत्र 47 वर्ष पुराना है। बैठक में प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन एवं विकास श्री एस.पी.एस. परिहार एवं जिला प्रशासन, नगर निगम भोपाल एवं उद्योग विभाग एवं विद्युत मंडल के अधिकारी मौजूद थे।