18 February 2019



प्रादेशिक
भैया राजा ने कहा, मैंने वसुंधरा की हत्या नहीं की
09-01-2013

भोपाल। फैंशन डिजायनर वसुंधरा बुंदेला हत्याकाण्ड में मंगलवार को पूर्व बाहुबली भाजपा विधायक अशोक वीर विक्रम सिंह उर्फ भैया राजा समेत अन्य आरोपियों के अदालत में बयान दर्ज किए गए। अपर सत्र न्यायाधीश संजीव कालगांवकर द्वारा पूछे गए सभी प्रश्नों को नकारते हुए भैया राजा ने बताया कि वसुंधरा बुंदेला हत्याकांड से उनका कोई वास्ता नहीं है। पुलिस ने उन्हें षड्यंत्र के तहत झूठा फंसाया है। जबकि घटना वाले दिन वे भोपाल में नहीं थे। आरोपी भैया राजा ने न्यायमूर्ति कालगांवकर से निवेदन किया कि वे अपने को निर्दोष साबित करने के लिए बचाव पक्ष में गवाही देना चाहते हैं इस कारण उन्हें अपनी गवाही पेश करने का मौका दिया जाए। जिसे न्यायाधीश ने स्वीकार कर बचाव पक्ष में गवाही पेश करने के लिए इसी माह की 11 तारीख की पेशी लगाई है। पेशी के दौरान भैया राजा ने अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर न्यायाधीश से आग्रह किया कि पेशी पर पुलिस उन्हें जेल से अदालत लेकर आती है और अदालत के कारागृह में अन्य कैदियों के बीच रखा जाता है, जबकि अदालत के कारागृह में उनपर पहले भी जानलेवा हमला हो चुका है। ऐसी स्थिति में उन्हें अदालत के कारागृह में न रखा जाकर सीधे न्यायाधीश के समक्ष पेश किया जाए। जिसे न्यायाधीश ने गंभीरता से लिया है। भैया राजा को दोपहर 12 बजे अदालत में पेश किया गया था जहां 2 बजे तक उनके मुल्जिम बयान होते रहे। वहीं अन्य आरोपियों के भी दोपहर 3 बजे के बाद मुल्जिम बयान दर्ज हुए हैं। पेशी के दौरान सभी आरोपियों को पुलिस की कड़ी सुरक्षा में अदालत लाया गया था। पेशी के दौरान भैया राजा की विधायक पत्नी आशा रानी और मृतका वसुंधरा बुंदेला के पिता मृगेंद्र सिंह अदालत में मौजूद थे।