17 February 2019



प्रमुख समाचार
सतना शहर के अधोसंरचना विकास की योजना बनायी जाय-मुख्यमंत्री श्री चौहान
12-01-2013
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि तेजी से बढ़ते सतना शहर और यहाँ आ रहे उद्योगों को ध्यान में रखते हुये अधोसंरचना विकास की योजना बनायी जाय। सतना एक सुंदर शहर बने। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ सतना नगर के नगरीय विकास की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री बाबूलाल गौर, जल संसाधन मंत्री श्री जयंत मलैया भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि सतना शहर के पेयजल के लिये मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना के समयबद्ध क्रियान्वयन की योजना बनायी जाय। रिंग रोड के निर्माण को प्राथमिकता दें। अधोसंरचना से संबंधित सभी कार्य समय-सीमा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण किये जाये। सतना नगर निगम की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिये आय के स्त्रोत विकसित किये जाये। निर्माणाधीन स्टेडियम की गुणवत्ता के संबंध में कार्रवाई के निर्देश मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैठक में सतना नगर से संबंधित विभिन्न विकास कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा करते हुये कहा कि सतना के समग्र विकास के लिये पुनर्घनत्वीकरण की योजना बनाये। कृषि के लिये आरक्षित भूमि को सुरक्षित रखा जाये। सतना शहर के बस स्टेण्ड को व्यवस्थित करने तथा नये उप बस स्टेण्ड बनाने की योजना बनाये। उन्होंने शहर में मुख्तारगंज से नजीराबाद तक के फ्लाय ओव्हर की योजना की उपयोगिता का सर्वे कराने के निर्देश भी दिये। शहर के मुख्य नाले तथा शहर के तीन अन्य नालों को व्यवस्थित करने की योजना बनाये। सतना शहर की प्रमुख सड़क को सुंदर बनाये। सतना में बन रहे स्टेडियम के समय पर पूरा नहीं होने तथा कार्य की गुणवत्ता ठीक नहीं होने के संबंध में उन्होंने जाँच कर दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सभी साईकिल रिक्शाचालकों और हाथठेला चालकों को रिक्शा या हाथठेला का मालिक बनाया जाये। निर्माण श्रमिकों के पंजीकरण का अभियान सतत् चलाया जाये। सतना में हवाई पट्टी के समीप से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करें। बैठक में बताया गया कि सतना शहर जनसंख्या के अनुसार प्रदेश का आठवां बड़ा शहर है। यहाँ सीमेंट के पाँच बड़े कारखाने चल रहे हैं, दो निर्माणाधीन हैं तथा 16 सीमेंट कारखाने और आने वाले हैं। शहर के मध्य से राष्ट्रीय राजमार्ग जाता है तथा शहर में रेलवे रेक पाईंट है। यातायात की समस्या को देखते हुये शेरगंज बायपास रिंग रोड का निर्माण तथा रेक पाईंट शहर से बाहर स्थापित करना जरूरी है। रेलवे स्टेशन को व्यवस्थित करना तथा शहर का पुनर्घनत्वीकरण आवश्यक है। शहर से स्टोन क्रेशर, थोक सब्जी मण्डी, लोहा मण्डी, डेयरी आदि को बाहर स्थापित किया जाना चाहिये। स्टेशन रोड का चौड़ीकरण भी प्रस्तावित है। सतना के पेयजल के लिये मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना में 32 करोड़ रूपये की स्वीकृति दी गयी है। नगर-निगम द्वारा शहर में दो शॉपिंग काम्पलेक्स बनाये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इन प्रस्तावों को शहरी पुनर्घनत्वीकरण योजना में शामिल करने के निर्देश दिये।