24 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
खामनेई के कहने पर किया था पोप पर हमला
02-02-2013

वैटिकन सिटी। पोप जॉन पॉल द्वितीय पर उन्नीस सौ इक्यासी में जानलेवा हमला ईरानी क्रांति के जनक दिवंगत अयातुल्ला रुहोल्ला खामनेई के कहने पर किया गया था। यह खुलासा हमलावर इस्लामिक कंट्टरपंथी मेहमत अली आगा ने अपनी किताब में किया है। एक पत्रकार की हत्या के जुर्म में तुर्की की जेल से बचकर वह तेहरान आया था, जहां खामनेई से मुलाकात के दौरान उसे ये निर्देश दिए गए। \'आइ वाज प्रोमिज्ड पैराडाइज : माइ लाइफ एंड द ट्रुथ बिहाइंड द अटैक अगेंस्ट द पोप\' नाम की यह किताब इतालवी में प्रकाशित हुई है। 1989 में खामनेई का निधन हो गया था। अगा के मुताबिक खामनेई ने उससे कहा था, \'तुम्हें अल्लाह के नाम पर पोप की हत्या करनी है।\'आगा ने 1983 में रोम की जेल में उससे मिलने आए पोप से मुलाकात के बारे में भी लिखा है। पोप ने तब उससे पूछा था, \'तुम्हें मुझे मारने का आदेश किसने दिया था।\' आगा के बताने पर पोप ने कहा था, \'चूंकि मैंने तुम्हें माफ कर दिया है, इसलिए उन्हें भी माफ करता हूं।\'