22 February 2019



राष्ट्रीय
महाकुंभ में तय होगी पीएम के लिए मोदी की दावेदारी
02-02-2013
नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी के लिए पीएम पद की उम्मीदवारी का रास्ता अब महाकुंभ से साफ होगा। विश्व हिंदू परिषद से जुड़े संतों की यहां सात फरवरी को बैठक होगी। इसमें भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के लिए गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को उम्मीदवार बनाए जाने के लिए लामबंदी की जाएगी। सात फरवरी को संत समाज नरेंद्र मोदी के नाम पर अपनी मुहर लगा सकता है। इसके बाद भाजपा पर संत समाज नरेंद्र मोदी की उम्मीदवारी के लिए दबाव बनाएगा आपको बता दें कि भाजपा की कोर कमेटी की बैठक भी इसी महीने होने वाली है। भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह भी 6 फरवरी को कुंभ जाएंगे और साधु-संतों से मिलेंगे। राजनाथ सिंह ने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई। हिंदुत्व को भाजपा का अभिन्न अंग बताया। राजनाथ सिंह ने कहा कि यह नफरत की नहीं बल्कि प्रेम की विचारधारा है। उधर विहिप भी अब राम जन्मभूमि को उठाने वाला है। विहिप के संरक्षक अशोक सिंघल ने कहा है कि भगवान रामलला को कपडे के मंदिर से मुक्त कर उनके गौरव के अनुरूप 70 एकड़ परिसर में विशाल मंदिर का निर्माण किया जाए। उन्होंने कहा कि तीर्थराज प्रयाग में चल रहा महाकुंभ बहुत महत्वपूर्ण है जिसमें संत ज्वलंत विषयों पर निर्णय लेंगे। गौरतलब है कि आजकल भाजपा में पीएम पद की उम्मीदवारी के लिए नरेंद्र मोदी के नाम पर मुहिम सी चल पड़ी है। यशवंत सिन्हा से लेकर राम जेठमलानी तक लगातार पैरवी कर रहे हैं।