18 February 2019



प्रमुख समाचार
युवा वर्ग उद्यमी बनकर विकास में सहभागी बने - मुख्यमंत्री श्री चौहान
02-02-2013

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा रिक्त संविदा शिक्षक वर्ग के साथ ही अन्य शासकीय विभागों के रिक्त पदों की पूर्ति की जायेगी। उन्होंने युवा वर्ग का आव्हान किया कि वह उद्यमी बने प्रदेश के विकास में सहभागी बने। प्रदेश सरकार ऐसे उद्यमियों के लिये बैंकों से अनुबंध कर रही है। उद्योग स्थापना के लिये 50 हजार रूपये तक के ऋण की बैंक गारंटी सरकार देगी और 5 साल तक ब्याज भी भरेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज पचोर में नगर पंचायत द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी की प्रतिमाओं के अनावरण एवं 6 करोड़ 47 लाख रुपये की लागत से निर्मित विभिन्न विकास कार्यो के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले में उद्योग धंधे खोलने के लिए सरकार मदद करेगी। युवा वर्ग स्वरोजगार के लिये उद्योग धंधे की स्थापना करें ताकि बेरोजगारी दूर हो। ग्रामीण स्तर पर छोटे-छोटे गृह और कुटीर उद्योग प्रारम्भ किये जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार गरीबों के लिये कई योजनायें संचालित कर रही, जिससे सभी लोग लाभान्वित हो रहे हैं। एक फरवरी से पूरे प्रदेश में निःशुल्क पेैथालॉजी योजना भी प्रारम्भ की गई है। इससे गरीबों को अपने खून आदि के परीक्षण कराने की निःशुल्क सुविधा मिलेगी।

मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना सहित विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार हर वर्ग के लिये योजनायें तैयार कर उन्हें संचालित करा रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री नल-जल योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना भी तैयार की जा रही है, जिसका शीघ्र ही क्रियान्वयन होगा। वास्तविक पाला प्रभावित फसलों का सर्वे कराने के निर्देश जिला प्रशासन को देते हुए उन्होंने कहा कि पाले से प्रभावित फसलों के लिये बीमा कम्पनी से भी चर्चा कर बीमा राशि दिलाने का प्रयास किया जायेगा।

बलात्कारियों को मिले फांसी

श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महिलाओं पर अत्याचार करने वाले छोड़े नही जायेंगे। ऐसे अपराधियों के न तो ड्रायविंग लायसेंस बनेगें और न ही जाति प्रमाण-पत्र। उन्हें सरकारी नौकरी भी नही मिलेगी। उन्होंने कहा कि बलात्कारियों को फांसी की सजा हो,ऐसा प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा गया है। प्रदेश सरकार द्वारा केवल बेटियों के माता-पिता को पेंशन देने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने जन सामान्य से बेटे-बेटी में किसी प्रकार का भेदभाव नही करने की अपील की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कृषि को लाभ का धंधा बने, इस ओर लगातार प्रयास किये जा रहे है। सिंचाई सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है ताकि खेतों की एक-एक इंच जमीन को पानी मिले। उन्होंने नर्मदा नदी को क्षिप्रा से जोड़ने की जानकारी देते हुये कहा कि नर्मदा का पानी लिफ्ट द्वारा कालीसिंध,पार्वती और गंभीर नदी में छोड़ा जायेगा। तकनीकी दृष्टि से संभव हुआ तो नेवज नदी को भी जोड़ने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने मोहनपुरा और कुण्डालिया में बाँध बनाये जाने का भी आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ‘‘आज की बेटी कल की माँ, परसो दादी-ताई बने’’ गीत की सी.डी. का विमोचन किया। उन्होंने जिले में बेटी बचाओ अभियान की प्रशंसा कर जिला प्रशासन को बधाई दी। संस्कार एकेडमी के बेटी बचाओ गीत का समूह गायन करने वाली टीम को और गर्ल्स स्कूल गाइड को भी एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पचोर में अधोसंरचना विकास के लिये 2 करोड़ रुपये की घोषणा करते हुए निर्मित होने वाले माल एवं बाय-पास रोड के लिये परीक्षण उपरान्त कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने पचोर में 30 बिस्तर वाले अस्पताल की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में पहले प्रतिदिन प्रति गौ के मान से 5 रुपये खुराक दी जाती, उसे बढ़ाकर अब 10 प्रति रुपये कर दिया गया है।

इस अवसर पर जनसम्पर्क, संस्कृति एवं जिला प्रभारी मंत्री श्री लक्ष्मीकान्त शर्मा, विधायक सर्वश्री गौतम टेटवाल, मोहन शर्मा, पूर्व विधायक सर्वश्री रघुनन्दन शर्मा, हरिचरण तिवारी, रोडमल नागर, नगर पंचायत के अध्यक्ष श्री अशोक पंडित सहित अन्य अधिकारी, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।