17 February 2019



प्रादेशिक
पीड़ित किसानों को हरसंभव मदद मिलेगी
06-02-2013

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ओला पीड़ित किसानों को हरसंभव मदद दिलाई जायेगी। उन्होंने कहा कि ओले से हुए नुकसान का आकलन जल्दी से जल्दी करवाया जायेगा। श्री चौहान आज टीकमगढ़ जिले के समर्रा ग्राम में ओला पीड़ित किसानों को संबोधित कर रहे थे। जिले के कई ग्रामों में गत 4-5 फरवरी की रात ओला वृष्टि से फसलें प्रभावित हुई हैं।

श्री चौहान ने कहा कि पीड़ित किसानों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए प्रभावित गाँव में राहत के काम खोले जायेंगे। पीड़ित परिवारों भोजन का इंतजाम भी करवाया जायेगा। जिला प्रशासन नुकसान का आकलन करते समय मानवीय दृष्टिकोण रखेगा। हर प्रभावित खेत का सर्वे होगा और पीड़ित व्यक्ति को नियमानुसार सहायता राशि उपलब्ध करवाई जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीड़ित किसान से लगान की वसूली नहीं होगी। साथ ही फसल बीमा की राशि भी किसान को ही मिलेगी। नुकसान का सर्वे जल्दी हो इसलिए 4-4 गाँव का समूह बनाकर अधिकारियों की डयूटी लगाई गई है। साथ ही आवश्यकतानुसार अन्य जिलों से भी अधिकारी इस कार्य में लगाये जा रहे हैं।

श्री चौहान ने कहा कि पीड़ित किसानों को आगामी फसल के खाद-बीज की व्यवस्था की जायेगी। इसके पूर्व श्री चौहान ने ग्राम समर्रा के खेतों में प्रभावित फसलों को देखा तथा पीड़ित परिवार को सांत्वना दी।

मुख्यमंत्री ने आँधी-तूफान में मृत व्यक्ति श्री धर्मा पिता अमर सिंह के परिजन को डेढ़ लाख की राहत राशि का चेक प्रदान कर अपनी सांत्वना दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान अचानक हुई इस ओला वृष्टि से प्रभावित किसानों से स्वयं मिलने हेलीकॉप्टर से पहुँचे, जहाँ से ग्राम पहुँचे और खेतों में भी गये। इस अवसर पर आदिम-जाति कल्याण राज्य मंत्री श्री हरिशंकर खटीक, सांसद श्री वीरेन्द्र कुमार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुधा राय, विधायक श्री अजय यादव, जिला सहकारी बैंेक के अध्यक्ष श्री विवेक चतुर्वेदी एवं अन्य जन-प्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी तथा ग्रामीण उपस्थित थे।